Top

मुम्बई को 5-2 से हराकर शीर्ष पर पहुंचा गोवा

मुम्बई को 5-2 से हराकर शीर्ष पर पहुंचा गोवा



फातोर्दा (गोवा- एफसी गोवा को अपने घर का शेर कहा जाए तो गलत नहीं होगा। बीते सीजन का फाइनल खेलने वाली इस टीम ने बुधवार रात अपने घर में लगातार छठी जीत के साथ हीरो इंडियन सुपर लीग के छठे सीजन की अंक तालिका में एक बार फिर शीर्ष स्थान हासिल कर लिया है।

गोवा ने जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में मुम्बई सिटी एफसी को 5-2 से हराया। गोवा के लिए फेरान कोरोमिनास ने 20वें और 80वें मिनट में गोल किए जबकि हुगो बोउमोस ने 38वें तथा जैकीचंद सिंह ने 39वें मिनट में गोल दागा। मुम्बई के मोहम्मद रफीक (87वें मिनट) का एक आत्मघाती गोल भी गोवा के खाते में जुड़ा। गोवा के लिए रावलिन बार्जेस ने 18वें और बिपिन सिंह ने 57वें मिनट में गोल किए।

गोवा की इस सीजन में 17 मैचों में यह 11वीं जीत है और वह 36 अंकों के साथ शीर्ष पर विराजमान हो गया है। मुम्बई के 17 मैचों से 26 अंक हैं और वह चौथे स्थान पर ही बना हुआ है। मुम्बई की हार ने ओडिशा एफसी को प्लेआफ की दौड़ से बाहर होने से बचा लिया।

मैच में पहले 15 मिनट बीत जाने के बाद अगले पांच मिनट में एक के बाद एक दो गोल देखने को मिले। पहले मुम्बई ने 18वें मिनट में रॉवलिन बॉर्जेस के गोल की मदद से 1-0 की बढ़त बना ली। लेकिन गोवा ने दो मिनट बाद ही शानदार वापसी करते हुए कोरोमिनास के गोल के दम पर मुकाबले में 1-1 की बराबरी कायम कर ली। गोवा के इस गोल में बोउमोस का असिस्ट रहा।

बराबरी का गोल करने के बाद गोवा ने हमले तेज किए और दो मिनट मे दो गोल करते हुए 3-1 की बढ़त ले ली। उसके लिए दूसरा गोल बोउमोस ने 38वें मिनट में और तीसरा गोल जैकीचंद ने 39वें मिनट किया। जैकी के इस गोल में कोरो का असिस्ट रहा। गोवा के पास हाफ टाइम तक चौथा गोल करने का मौका था, लेकिन जैकी इस बार महज कुछ इंच के अंतर से चूक गए।

दूसरे हाफ की शुरुआत अच्छी नहीं रही। 49वें मिनट में मुम्बई के विद्यानंद सिंह और 51वें मिनट में इसी टीम के लिए पहला गोल करने वाले बार्जेस को पीला कार्ड मिला। मुम्बई ने 53वें मिनट में एक जोरदार हमला किया लेकिन एफसी गोवा के डिफेंडरों ने उसे नाकाम कर दिया। इसके चार मिनट बाद ही हालांकि बिपिन सिंह ने गोल करते हुए दोनों टीमों के गोल अंतर को कम कर दिया।

62वें मिनट में मोहम्मद नवाज ने शानदार बचाव करते हुए मुम्बई को बराबरी करने से रोका। इसी तरह मुम्बई के गोलकीपर सुभाशीष ने 64वें मिनट में अच्छा बचाव किया। गोवा ने 68वें मिनट में भी एक जोरदार हमला किया लेकिन मुम्बई के डिफेंडर सावधान थे। 71वें मिनट में गोला के मंडार राव देसाई को चोट लगी और वह बाहर जाने को मजबूर हए। 75वें मिनट में बिपिन चोटिल होकर बाहर गए और रेनियर फर्नांडिस ने उनकी जगह ली।

मुम्बई एक गोल से पीछे था और गोवा इस अंतर को बढ़ाना चाहता था। इसी क्रम में कोरो ने 80वें मिनट में गोल करते हुए गोवा को 4-2 से आगे कर दिया। इस गोल में बोउमोस का असिस्ट था। कोरो का यह इस सीजन का 13वां गोल है। वह अब वह सबसे अधिक गोल करने वाले खिलाड़ियों की सूची में एटीके के राय कृष्णा (13) के साथ बराबरी पर आ गए हैं।

इस गोल के आघात से मुम्बई की टीम अभी सम्भली भी नहीं थी कि मोहम्मद रफीक ने एक आत्मघाती गोल करते हुए गोवा को 5-2 से आगे कर दिया। अब मुम्बई के लिए वापसी नामुमकिन था और वह अंततः वह इस सीजन की पांचवीं हार को मजबूर हुई।

Share it