Top

संबंध - Page 1

  • मनभावन बनें अपने प्रियतम की

    वैसे तो हर इंसान की इच्छा रहती है कि वह अपने पार्टनर का मनभावन बन कर रहे। जिसके साथ पूरा जीवन साथ बिताना हो, उसका मनभावन बनना तो अति आवश्यक हो जाता है। आप भी ऐसे बनें अपने प्रियतम की पसंद, कुछ आम, कुछ खास बातों का ध्यान रखते हुए। - पति की जरूरत का ध्यान रखें। उन्हें यह मौका न दें कि आप उनके प्रति...

  • विवाहित पुरूष से प्रेम खतरनाक खेल है

    अक्सर पुरूष पत्नी के होते हुए दूसरी औरत की जिम्मेदारी लेने से कतराता है। मौजमस्ती अपनी जगह है, लेकिन परिणाम भुगतना पड़ता है औरत को। कुंआरी मां बनकर या समाज के डर से उसे एबॉर्शन करवाने को मजबूर होना पड़ता है क्योंकि समाज नाजायज औलाद को तिरस्कार से देखता है तथा उसकी मां को चरित्रहीन समझता है। ...

  • पति की नजरों में सेक्सी बने रहने का राज

    हर पत्नी की चाहत होती है कि वह अपने पति की नजरों में सबसे सुंदर व सेक्सी बनी रहे और विवाह के शुरू के दिनों में पति को अपनी पत्नी से ज्यादा हसीन कोई नहीं लगता। पति के मुंह से तारीफ भी सुनने को मिलती है और ऐसी बातें भी 'रोमा, आज तुम बहुत सेक्सी नजर आ रही हो', 'तुम्हारी आंखों में तो डूब जाने का दिल...

  • ऐसे दांपत्य संबंधों को तोडऩा ही उचित है

    पायल और राज की जोड़ी को देखकर हमारे मुंह से हमेशा यही निकलता था कि अगर हम सफल दांपत्य जीवन को देखना चाहते हैं तो यही एक आदर्श जोड़ी है। हम सब को लगता कि 'हम बने, तुम बने, एक दूजे के लिए' को यह जोड़ी सार्थक करती है पर हमारा यह भ्रम तब टूटा जब एक पार्टी के दौरान इस आदर्श जोड़ी का असली रूप सामने आया। ...

  • पति परदेश में हो तो...?

    जो लोग नौकरी करते हैं वे हमेशा एक जगह नहीं रह सकते। उन्हें कभी न कभी बाहर जाना पड़ता है, अपने देश में ही, घर से दूर या फिर विदेश। नौकरी करने वाले सभी लोग अपने परिवार को साथ नहीं ले जा सकते। पारिवारिक या अन्य कारणों से आदमी को पत्नी-बच्चों को छोड़कर भी जाना पड़ सकता है। नई जगह जाने पर आदमी को रहने...

  • चुंबन में है जीवन का रस

    दांपत्य संबंधों की मधुरता व गर्माहट में चुंबन एक अहम भूमिका निभाता है। अक्सर पति-पत्नी अपने प्यार को प्रदर्शित करने के लिए एक दूसरे को 'किस' देना अधिक पसंद करते हैं। दांपत्य संबंधों को जीवंत बनाये रखने में 'किस थेरेपीÓ का महत्त्वपूर्ण योगदान है। जो लोग इस रहस्य को जान चुके हैं, वे 'किस' को कभी मिस...

  • विवाहेत्तर संबंधों की विडम्बना

    आज केे आधुनिक समाज में किसी व्यक्ति के या किसी स्त्री के विवाहेत्तर संबंध होना आम बात है। प्राय: पुरूषों को ऑफिस या घर से बाहर रहना पड़ता है। ऐसे में किसी पुरूष के अपनी पत्नी के अलावा दूसरी साथी स्त्री के साथ विवाहेत्तर संबंध हो सकते हैं। आधुनिक युग में हम भोगवादी युग में जी रहे हैं जिसमें व्यक्ति ...

  • होश न खो दें प्यार में

    'प्यार किया नहीं जाता, हो जाता है' यह कहावत सुनने में अच्छी और सच्ची लगती है पर फिर भी प्यार करते समय जोश में होश न खोएं तो अच्छा होगा। यह तो प्रकृति की देन है कि विपरीत लिंग की ओर आकर्षण ज्यादा होता है पर किसी से प्रेम करते समय सोच समझ कर करें तो पछतावा हाथ नहीं लगेगा। प्यार का हाथ सोच समझ कर आगे...

  • विवाहेत्तर संबंध: ऊब का विकल्प

    शिक्षा के विकास ने स्त्रियों को आत्मनिर्भर बनाया। वे बाहर नौकरी करने लगी। उनके व्यक्तित्व का विकास हुआ। अब वे घर की चारदीवारी से बाहर सार्वजनिक क्षेत्रों में पुरूष के बराबर भागीदार बन के कार्य करने लगी लेकिन समाज आज भी पुरूषों का ही है। अपनी अस्मिता की चाह लिये जब स्त्री उसमें अपनी जगह ढंूढने चली...

  • नाजायज रिश्ते लाते हैं जीवन में तूफान

    रिश्ता कोई भी हो, उसमें पवित्रता का होना अत्यंत आवश्यक है, खासतौर पर पति पत्नी के रिश्ते में जो भारतीय संस्कृति में सबसे पवित्र सात फेरों का बन्धन होता है। पति पत्नी सात जन्मों तक साथ निभाने की कसमें खाते हैं लेकिन आज ये सात कसमें झूठी होती नजर आ रही हैं। पति पत्नी के बीच एक जन्म तो पूरा ठीक से...

  • क्यों नहीं ले पाते नवविवाहित पति-पत्नी यौन जीवन का आनंद

    प्राय: लड़कियों के मस्तिष्क में किशोरावस्था से ही दुल्हन बनने की कल्पना हिलोरे लेने लगती है। उनकी यह कल्पना मनचाहा जीवन साथी मिलने के बाद पूरी हो जाती है और शुरू होती है एक नई जिन्दगी। तो इसी जिन्दगी के प्रारंभ में महत्त्वपूर्णं होती है शादी के तुरन्त बाद सुहागरात। सुहागरात न केवल शारीरिक संबंधों...

  • सहवास कब दवा, कब बला?

    यौन आनन्द तन-मन को ऊर्जा प्रदान करता है, इसमें कोई दो राय नहीं हैं किन्तु सहवास के कारण अगर स्वास्थ्य निरन्तर गिरता चला जाए या जीवन संगिनी को स्वास्थ्य संबंधी अनेक विकारों से ग्रस्त होना पड़े, शायद यह किसी भी दम्पति को पसंद नहीं होगा। कुछ लोग सिरदर्द, थकान, तनाव डिप्रेशन आदि को मिटाने के लिए सहवास ...

Share it