Top

19 अक्टूबर से खुलेंगे सभी स्कूल, दो पालियों में होगी पढाई, विद्यालयों में कोविड-19 की गाइड लाईन का भी सख्ती से करना होगा पालन

19 अक्टूबर से खुलेंगे सभी स्कूल, दो पालियों में होगी पढाई, विद्यालयों में कोविड-19 की गाइड लाईन का भी सख्ती से करना होगा पालन

सहारनपुर, 18 अक्टूबर। जिलाधिकारी सहारनपुर अखिलेश सिंह ने कहा है कि वैश्विक माहमारी के चलते सावधानी बरतने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि शासन की मंशा के अनुरूप 19 अक्टूबर से समस्त शिक्षा बोर्ड के कक्षा 9 से 12 तक के विद्यालयों में भौतिक रूप से पठन-पाठन का कार्य प्रारम्भ किया जाए। उन्होंने कहा कि सभी प्रधानाचार्य सुनिश्चित कर लें कि विद्यालयों को दो पालियों में चलाया जाए तथा दिन में दो बार विद्यालय को सैनिटाइज कराया जाए। अभिभावकों की बिना सहमति के बच्चों को प्रवेश न दिया जाए।

उन्होंने कहा कि जनपद के सभी प्राइमरी एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों के प्रभारियों को निर्देश दिए गए है कि विद्यालय के नियमित सम्पर्क में रहे, कोई भी विषम परिस्थिति पर तत्काल प्रभावी कार्रवाही की जाए। डीएम अखिलेश सिंह आज यहां तहसील सदर सभागार में माध्यमिक शिक्षा के विद्यालय के प्रधानाचार्य को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि कोविड-19 की गाइडलाईन का सख्ती से पालन कराते हुए सभी बोर्ड के विद्यालयों में भौतिक रूप से पठन-पाठन का कार्य शुरू कराएं। उन्होंने कहा कि छात्रों द्वारा लाये गये सहमति के पत्रों पर अभिभावकों को विद्यालय में बुलाकर सहमति प्राप्त की जाए। उन्होंने कहा कि शिक्षक व शैक्षिणक कर्मचारियों की कोविड जांच कराई जाए। उन्होंने कहा कि रोस्टर के अनुसार सभी विद्यालयों में कोविड-19 की जांच कराई जायेंगी। उन्होंने कहा कि सभी विद्यालय छात्रों को स्कूल लाने वाली बसों को दिन में दो बार सैनेटाइज करायेंगे। इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही अक्षम्य होगी।

जिलाधिकारी ने प्रधानाचार्य को आह्वान किया कि वे बच्चों को मास्क पहनने, दो गज की दूरी तथा नियमित रूप से हाथ धोने के लिए प्रेरित करते रहें। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने महिलाओं व बालिकाओं के सुरक्षा व स्वावलम्बन के लिए मिशन शक्ति अभियान चलाया गया है। उन्होंने कहा कि इस अभियान को सफल बनाने के लिए बालिकाओं को सरकार द्वारा महिला व बालिका उत्थान के लिए चलाई जा रही योजनाओं की जानकारी दी जाए। साथ ही जो लाभार्थीपरक योजना हो उससे ऐसी बालिकाओं को लाभान्वित भी कराया जाए। उन्होंने कहा कि सभी प्रधानाचार्य अपने विद्यालयों में सैनेटाइजर, थर्मल स्कैनर खरीद लें तथा छात्रों, शिक्षकों तथा शैक्षिणक कर्मचारियों की नियमित जांच कराते रहें। जिला विद्यालय निरीक्षक अरूण कुमार दुबे ने कहा कि सभी शिक्षा बोर्ड के विद्यालय दो पालियों में खुलेंगे। पहली पाली में कक्षा 9 से 10 तथा दूसरी पाली में कक्षा 11 से 12 के छात्रों की पढ़ाई होगी। उन्होने कहा कि जो विद्यालय माॅस्क नहीं खरीद सकते है, उन्हें मास्क उपलब्ध कराए जायेंगे। इस अवसर पर विभिन्न शिक्षण संस्थाओं के प्रधानाचार्य ने जिलाधिकारी को अवगत कराया कि केवल 10 से 12 फीसदी अभिभावक अपने बच्चों को विद्यालय भेजने को तैयार है। जबकि ग्रामीण क्षेत्रों के प्रधानाचार्य ने बताया कि ग्रामीण अभिभावक अधिक संख्या में बच्चों को विद्यालय भेजने को तैयार है। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक यातायात प्रेम चंद , नगर मजिस्ट्रेट सुरेश कुमार सोनी सहित माध्यमिक शिक्षा विभाग के अधिकारी व विभिन्न संस्थाओं के प्रधानाचार्य उपस्थित रहे।

Share it