Top

सहारनपुर : एंटी रोमियो पुलिस द्वारा लावारिस बच्ची की गई परिजनों के सुपुर्द

सहारनपुर : एंटी रोमियो पुलिस द्वारा लावारिस बच्ची की गई परिजनों के सुपुर्द

, अपने गांव लौटते समय मां से बिछड़ गई थी बच्ची

बच्ची को सड़क पर रोती देख गश्त कर रही है एंटी रोमियो पुलिस लेकर पहुंची थी चौकी

सहारनपुर (गौरव सिंघल)। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सहारनपुर दिनेश कुमार पी के आदेशानुसार सहारनपुर जनपद पुलिस महिलाओं की सुरक्षा को लेकर बहुत सख्त है। वही थाना जनकपुरी प्रभारी राजेंद्र नागर के निर्देशन में रविवार की दोपहर को एंटी रोमियो पुलिस जनता रोड मार्ग पर गश्त कर रही थी कि इसी दौरान चक हरेटी में पुलिस को एक बच्ची रोती बिलखती नजर आई। जिसके बाद एंटी रोमियो पुलिस उस बच्ची के पास पहुंची।

बच्ची से पुलिस द्वारा पूछताछ की गई लेकिन वह कुछ नहीं बता पाई।जिसके बाद एंटी रोमियो पुलिस बच्ची को लेकर ट्रांसपोर्ट नगर चौकी पहुंची और जानकारी में जुट गए। चौकी प्रभारी वीनू सिंह द्वारा मामले को गंभीरता से लेते हुए उन्होंने बच्ची के बारे में जानकारी करते हुए खोजबीन शुरू की। जिसके बाद पुलिस को लड़की के परिजनों का पता चल गया। चौकी प्रभारी ने बताया लड़की का नाम सीबा 10 वर्ष पुत्री गफूर निवासी झिंझोली थाना बेहट पाया गया है। वही लड़की की मां जमीला को चौकी पर बुलाकर पूछताछ की गई।जमीला ने बताया कि वह वर्तमान में हबीब गढ़ एक किराए के मकान में रह रहे हैं और वहां रहकर मेहनत मजदूरी कर रहे हैं जबकि उनका पुश्तैनी मकान बेहट क्षेत्र के गांव झिंझोली है। लड़की की मां ने बताया कि वह आज सुबह के समय शहर से अपने गांव जाने की तैयारी में थे। इसी दौरान रास्ते मे उसकी बेटी अचानक बिछड गई। जिसके बाद परिजन उसे इधर-उधर तलाशने लगे। जिसका कोई पता नहीं चल पाया। पुलिस द्वारा काफी जद्दोजहद के बाद बच्ची के परिजनों का पता चल पाया। उसके बाद शीबा को उसकी मां जमीला के सुपुर्द कर दिया गया। इस दौरान पुलिस के इस सराहनीय कार्य मे एंटी रोमियो पुलिस की महिला कांस्टेबल पायल त्यागी, सोनिका और अन्य पुलिसकर्मी आदि शामिल रहे।

Share it
Top