Top

बिजली इंजीनियरों ने की बिजली कार्मिक प्रोटेक्शन एक्ट लागू करने की मांग

बिजली इंजीनियरों ने की बिजली कार्मिक प्रोटेक्शन एक्ट लागू करने की मांग



लखनऊ - उत्तर प्रदेश के मथुरा में बिजली इंजीनियर की हत्या को लेकर आक्रोशित विद्युत कर्मियों ने बिजली कार्मिक प्रोटेक्शन एक्ट लागू करने की मांग की है। विद्युत कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति ने पिछले गुरूवार को मथुरा में अवर अभियंता प्रदीप कुमार की गोली मारकर की गयी हत्या तथा नैनी, प्रयागराज एवं लोनी, गाजियाबाद सहित बिजली अभियन्ताओं पर हुए जानलेवा हमलों को लेकर आक्रोश व्यक्त किया और पावर कारपोरेशन के चेयरमैन को पत्र लिखकर विद्युत कर्मचारियों की सुरक्षा के लिये विभिन्न मांगे प्रस्तुत की।

समिति के संयाेजक शैलेन्द्र दुबे ने शनिवार को कहा कि बिजली अभियन्ताओं एवं कर्मचारियों को संरक्षण प्रदान करने के लिये 'बिजली कार्मिक प्रोटेक्शन एक्ट' बनाया जाये जबकि मथुरा में अवर अभियन्ता की हत्या करने वाले आरोपी पर रासुका लगाने के साथ मृतक के परिवार को सरकारी नौकरी और एक करोड़ रूपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाये।

उन्होने कहा कि लोनी(गाजियाबाद) एवं नैनी(प्रयागराज) व अन्य सभी जगह की घटनाओं के सभी आरोपियों पर रासुका लगाकर तत्काल गिरफ्तारी की जाये। राजस्व वसूली के लिये की जा रही मॉर्निंग रेड, नाइट रेड एवं मास रेड आदि विशेष अभियान बिना पर्याप्त पुलिस बल की उपलब्धता के कदापि न कराये जायें।

समिति की मांग थी कि बिजली अभियन्ताओं एवं कर्मचारियों के विरूद्ध कोई भी एफआईआर बिना नियुक्ति प्राधिकारी के परीक्षण एवं उनकी सहमति के दर्ज न हो। बिजली अभियन्ताओं, अवर अभियन्ताओं एवं कर्मचारियों को सरकारी सुरक्षा प्रदान की जाये। सभी उपकेन्द्रों पर सीसीटीवी कैमरे लगाये जायें जिससे तोड़-फोड़ एवं हमला करने वाले अराजक तत्वों की पहचान कर उनके विरूद्ध कार्यवाही की जा सके।


Share it
Top