Top

सहारनपुर : मामा की छेड़छाड़ से आहत भांजी ने की खुदकुशी, मामा गिरफ्तार

सहारनपुर : मामा की छेड़छाड़ से आहत भांजी ने की खुदकुशी, मामा गिरफ्तार


साली से दुष्कर्म मामले में लेखपाल को जेल

सहारनपुर (गौरव सिंघल)। जनपद सहारनपुर महिलाओं और युवतियों के मामले में ठीक नहीं रहा। एकाएक दुष्कर्म और छेड़छाड़ के कई मामले सामने आए हैं। सबसे दुखद मामला सहारनपुर के सदर बाजार थाना क्षेत्र का है। जहां के मनोहरपुर गांव में पुलिस ने धर्मवीर नामक एक व्यक्ति को गिरफ्तार कर जेल भेजा है, जिसके खिलाफ इसी कोतवाली के एक दरोगा मनोज कुमार ने रिपोर्ट लिखाई थी।

जानकारी के अनुसार धर्मवीर के मकान में उसकी भांजी का परिवार किराए पर रहता है। दो दिन पूर्व पुलिस को सूचना मिली थी कि 16 वर्षीय एक लड़की की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई हैं। पुलिस को सूचना मिलने पर पुलिस ने अपनी पहल पर जांच कराई और मृतक युवती का पोस्टमार्टम कराया तो चौंकाने वाली बात यह सामने आई कि युवती ने फांसी का फंदा लगाकर अपनी जान दी थी। एसएसपी के निर्देश पर पुलिस ने तत्परता से जांच शुरू की तो पुलिस के हाथ लड़की का सुसाइट हाथ लग गया, जिसमें उसने अपने मामा धर्मवीर पर छेड़छाड़ और जोर जबरदस्ती करने की बात लिखी हुई थी। सुसाइट नोट में यह भी लिखा था कि लोक-लाज के भय से वह खुदकुशी कर रही है। पुलिस ने धर्मवीर को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। मामले में पीड़ित परिवार ने कोई एफआईआर दर्ज नहीं कराई थी। दरोगा मनोज की तरफ से धर्मवीर के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने की धारा 306 और आईपीसी की धारा 354, 7/8 पोक्सो एक्ट में कल मामला दर्ज कराया गया था। दूसरा मामला देवबंद कोतवाली का है। जहां देवबंद पुलिस ने इसी तहसील के गांव सांखनखुर्द के लेखपाल अनिल कुमार कश्यप को आज दुष्कर्म के मामले में जेल भेज दिया। तहसीलदार आशुतोष सिंह ने आज बताया कि वह इस मामले की पूरी रिपोर्ट जिलाधिकारी आलोक पांडे को भेज रहे हैं। एक-दो दिन में लेखपाल निलंबित हो जाएगा। सीओ देवबंद चौब सिंह के मुताबिक लेखपाल के खिलाफ उसकी ससुराल वालों ने देवबंद कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज कराकर आरोप लगाया कि अनिल कश्यप अपनी साली को बहला-फुसलाकर अपने साथ लेकर लाया और उसके साथ दुष्कर्म किया।

थाना नानौता क्षेत्र के गांव भाव निवासी अनुसूचित जाति की एक युवती ने दूसरे संप्रदाय के दो युवकों के खिलाफ छेड़छाड़ की रिपोर्ट दर्ज कराई। मामले की जांच कर रहे गंगोह के सीओ अजय शर्मा ने आज बताया कि पीड़ित लड़की ने बताया कि वह कल शाम जब गन्ने के खेत में काम कर घर लौट रही थी तो बाइक सवार दो मुस्लिम युवक उसे गन्ने के खेत में खींचकर ले गए और दुष्कर्म का प्रयास करने लगे। युवती ने साहस से काम लेते हुए दरांती से युवकों पर हमला किया और शोर मचा दिया जिससे युवक अपने मकसद में कामयाब नहीं हो पाए और भाग निकले। सीओ अजय शर्मा ने कहा कि पुलिस तफ्तीश में युवती के आरोपों की पुष्टि हुई हैं। पुलिस उसका मेडिकल भी कराएगी और शीघ्र ही आरोपी युवकों को गिरफ्तार कर जेल भी भेजेगी। एक अन्य मामला थाना बड़गांव के गांव जड़ौदा पांडा का सामने आया है जहां कालेज से लौटते वक्त अनुसूचित जाति की एक लड़की के साथ उसी कालेज के दो छात्रों ने उससे छेड़छाड़ की। एसओ भानू प्रताप सिंह ने छात्रा के पिता की ओर से आरोपी युवकों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया। थानाध्यक्ष सिंह ने कहा कि पीड़ित पक्ष और छात्रा ने आरोपी दोनों युवकों को माफ कर दिया और कानूनी कार्रवाई किए जाने से मना कर दिया। छेड़छाड़ और दुष्कर्म के प्रयास की एक घटना देवबंद कोतवाली के कस्बे के एक मोहल्ले में हुई। जहां एक युवक तमंचा, चाकू लेकर पड़ौसी के घर में घुस गया। जहां युवती को अकेला पाकर उसके साथ छेड़छाड़ करने लगा। युवती के विरोध करने पर युवक उसे घायलकर भाग गया। भागते वक्त युवक का तमंचा मौके पर ही गिर गया। युवती के परिजनों ने युवक के तमंचे को पुलिस के हवाले करते हुए रिपोर्ट दर्ज कराई। पुलिस भी आरोपी युवक की तलाश में जुट गई है।

Share it
Top