Top

17 बड़े टाउन में चोरी व अधिक लाईन हानियों वाले क्षेत्रों में की जायेगी मॉस रेड

17 बड़े टाउन में चोरी व अधिक लाईन हानियों वाले क्षेत्रों में की जायेगी मॉस रेड

मेरठ। चयनित 17 बड़े टाउन में चोरी बाहुल्य व अधिक लाईन हानियों वाले क्षेत्रों में की जायेगी मॉस रेड। इस सम्बन्ध में चयनित टाउन के अधीक्षण अभियन्ताओं को नोडल अधिकारी नामित किया गया है। पश्चिमांचल विद्युत वितरण निगम लि० के अन्र्तगत अधिक ऊर्जा खपत की दृष्टि से चिन्हित 8 शहर मुरादाबाद, रामुपर, मु०नगर, सहारनपुर, मेरठ, गा०बाद, हापुड़ एवं बुलन्दशहर जनपद में मॉस रेड हेतु व्यापक पैमाने पर टीमों का गठन कर मॉस रेड अभियान चलाया जायेगा। इस सम्बन्ध में विद्युत विभाग के अधिकारियों/कर्मचारियों एवं पुलिस विभाग के सहयोग से चेकिंग कराये जाने हेतु जनपदवार टीमों का गठन किया गया है।

अभियान में समस्त प्रवर्तन दल के प्रभारी, नामित नोडल अधिकारी व नामित पुलिस अधिकारियों से सम्पर्क स्थापित कर निर्धारित तिथियों में विद्युत के अधिकारियों/कर्मचारियों के साथ मॉस रेड की जा रही है।

अभियान की प्रतिदिन प्रगति की रिपोर्ट उ०प्र० पावर कारपोरेशन लि०, लखनऊ को प्रेषित करने के निर्देश दिये गये हैं। मॉस रेड अभियान के अन्र्तगत आज दिनांक 2.7.2019 को मुरादाबाद, मु०नगर, सिकन्दराबाद, चलाये गये अभियान के अन्र्तगत 62 प्रकरणों में सीधे विद्युत चोरी पकड़ी गयी तथा 48 संयोजन मौके पर विच्छेदित किये गये। सीधे विद्युत चोरी में पकड़े गये प्रकरणों के विरूद्ध एफ०आई०आर० दर्ज करायी गयी है। विद्युत अधिनियम, 2003 में निहित प्रावधानों के तहत विद्युत चोरी एक संज्ञेय अपराध है जिसके अंतर्गत पकड़े जाने पर धारा-135 के अंतर्गत एफ०आई०आर० दर्ज कराने के साथ-साथ अभियुक्तों को कठोर कैद एवं आर्थिक दण्ड की सजा का प्रावधान है।

इस सम्बन्ध में आशुतोष निरंजन (आईएएस) प्रबन्ध निदेशक, द्वारा अवगत कराया गया है कि भारत सरकार एवं उत्तर प्रदेश शासन की अपेक्षाओं के अनुरूप विद्युत चोरी पर प्रभावी नियन्त्रण हेतु डिस्काम के अन्र्तगत चयनित नगरों में मॉस रेड अभियान चलाया जा रहा है। विद्युत चोरी की रोकथाम हेतु कार्य योजना बनाकर सार्थक प्रयास किये जाने हेतु अधिकारियों को निर्देशित किया गया है। अभियान में किसी भी प्रकार की शिथिलता बरतने हेतु कड़ी कार्यवाही सुनिश्चित की जायेगी।

Share it