Top

कोरोना काल में बढ़ी ऑक्सीजन की डिमांड, सरकारी अमले ने बढ़वा दिए दाम, अफसर बोले- कमी है पर दिक्कत नहीं

मेरठ। कोरोना काल के दौरान बढ़ रही ऑक्सीजन सिलेंडर की खपत के दौरान जहां ऑक्सीजन सिलेंडर का काम करने वाले व्यापारियों ने सरकार पर सिलेंडर के दाम बेतहाशा बढ़ाए जाने का आरोप लगाया है। वहीं जिले के सीएमओ ने सरकारी अस्पतालों में पर्याप्त ऑक्सीजन सिलेंडर का दावा किया है।

गौरतलब है कि वैश्विक महामारी कोरोना के दौरान गंभीर मरीजों को सांस लेने में तकलीफ के चलते ऑक्सीजन सिलेंडर संजीवनी का काम कर रहे हैं। लिहाजा ऐसे हालात में शहर के सरकारी और प्राइवेट हॉस्पिटलों में ऑक्सीजन सिलेंडर की खपत भी बढ़ गई है। आलम यह है कि प्राइवेट हॉस्पिटलों में अब ऑक्सीजन सिलेंडरों की खपत पूरी नहीं हो पा रही है। जिसके चलते जहां मार्केट में ऑक्सीजन सिलेंडर के दाम बढ़ गए हैं। वहीं, ऑक्सीजन सिलेंडर का कारोबार करने वाले व्यापारी इसके लिए सरकार को दोष दे रहे हैं। जिले में ऑक्सीजन सिलेंडर का काम करने वाले व्यापारी अनिल कुमार जैन का आरोप है कि ऑक्सीजन सिलेंडर की कमी की बात सिर्फ सरकारी अमले द्वारा फैलाई जा रही है। उन्होंने आरोप लगाया कि सिलेंडर की कमी का हल्ला मचा कर अचानक ऑक्सीजन सिलेंडर के रेट दोगुने तक बढ़ा दिए गए हैं। पहले जहां एक ऑक्सीजन सिलेंडर 150 रुपए में खरीद कर ढाई सौ रुपए तक बेचा जाता था। वहीं, अब पीछे से ही सिलेंडर आठ सौ रुपए का मिल रहा है। उधर, सीएमओ डॉ राजकुमार ने जिले में ऑक्सीजन सिलेंडर की कमी की बात तो स्वीकार की। मगर, इसी के साथ शहर के सभी सरकारी अस्पतालों में पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन सिलेंडर होने का दावा किया।

Share it