Top

मेरठ में डीएम कोरोना मरीजों के शव बदले जाने पर हुए सख्त, अब ट्रांसपेरेंट बैग में दिए जाएंगे शव

मेरठ। उत्तर प्रदेश के मेरठ जनपद में दो कोरोना पेशेंट्स की लाशें बदलने को लेकर अधिकारियों ने अब एक नई पहल की है। जिसके तहत अब कोरोना पेशेंट्स के शव ट्रांसपेरेंट बैग में पैक करके परिजनों के सुपुर्द किए जाएंगे। जिससे भविष्य में दोबारा ऐसी कोई चूक ना हो।

दरअसल, रविवार को जिले का चार्ज लेने के बाद जहां इस मुद्दे को लेकर नवागत डीएम के बालाजी ने सबसे पहले मेरठ के लाला लाजपत राय मेडिकल कॉलेज का ही निरीक्षण किया था। वहीं, जिले में बदतर हो चली लॉ एंड ऑर्डर की व्यवस्था में सुधार के लिए सोमवार को डीएम के बालाजी ने एसएसपी अजय साहनी के साथ शहर का दौरा किया। इस दौरान नवागत डीएम ने एसएसपी को साथ लेकर जिले के संवेदनशील माने जाने वाले बेगमपुल और हापुड अड्डा चौराहा से कई अन्य इलाकों का निरीक्षण किया। इसी के साथ चौराहों पर ट्रैफिक व्यवस्था आदि सुधारने के निर्देश दिए।

मीडिया से हुई बातचीत में डीएम के बालाजी ने बताया कि जिले की कमान संभालने के बाद उनके सामने दो बड़ी चुनौतियां हैं। पहली बढ़ते कोरोना संक्रमण से हो रही मृत्यु दर को नियंत्रण में करना और दूसरी जिले का बिगड़ता लॉ एंड ऑर्डर। उन्होंने दावा किया कि दोनों ही समस्याओं का पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों के सहयोग से जल्द ही समाधान कर लिया जाएगा। डीएम ने बताया कि पिछले दिनों मेडिकल में तो कोरोना पेशेंट्स के शव आपस में बदले जाने को लेकर एक इंक्वायरी कमेटी का गठन किया गया है। इसी के साथ मेडिकल के अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि अब से कोरोना पेशेंट के मरीज की मौत के बाद उनके शव ट्रांसपेरेंट बॉडी कवर में पैक करके परिजनों के सुपुर्द किए जाएं। जिससे भविष्य में ऐसे संवेदनशील मुद्दों पर कोई गलती ना हो।

Share it