Top

मेरठ मैडिकल में अव्यवस्था पर शासन हुआ गंभीर..केजीएमयू से भेजे ओएसडी करेंगे पर्यवेक्षण..वार्ड में लगेंगे सीसीटीवी कैमरें..

मेरठ मैडिकल में अव्यवस्था पर शासन हुआ गंभीर..केजीएमयू से भेजे ओएसडी करेंगे पर्यवेक्षण..वार्ड में लगेंगे सीसीटीवी कैमरें..

मेरठ, 10 मई । लाला लाजपत राय मेडिकल कॉलेज के कोविड वार्ड से आए-दिन वायरल हो रहे बदहाली के वीडियो और ऑडियो पर प्रदेश सरकार सख्त हो गई है। मामले की गंभीरता को देखते हुए प्रदेश सरकार ने मेडिकल के कोविड वार्ड में अपने एक ओएसडी को तैनात करने का निर्णय लिया है। इसी के साथ डीएम अनिल धींगरा ने वार्ड में सीसीटीवी कैमरे लगाए जाने के आदेश दिए हैं जिससे वार्ड में किसी तरह की अनियमितता ना बरती जा सके।

कई दिन से मेडिकल काॅलेज के कोविड वार्ड की बदहाली को बयां करते ऑडियो व वीडियो वायरल हो रहे हैं। शनिवार को एक कोरोना पीड़ित व्यापारी का ऑडियो व वीडियो वायरल होने पर मेरठ दक्षिण सीट से भाजपा विधायक डाॅ. सोेमेंद्र तोमर ने प्रदेश के चिकित्सा मंत्री सुरेश खन्ना से बात की थी। जिस पर चिकित्सा शिक्षा मंत्री ने जांच करके कार्रवाई करने के निर्देश दिए थे। मेडिकल कॉलेज में अव्यवस्थाओं से नाराज शासन ने मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य की सहायतार्थ केजीएमयू के ओएसडी को मेडिकल कॉलेज से संबद्ध किया है। लखनऊ से आए ओएसडी डॉ. वेदप्रकाश मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य के अधीन कार्य नहीं करेंगे। बल्कि वह स्वतंत्र रूप से कोविड वार्ड के परीक्षण और पर्यवेक्षण की जिम्मेदारी संभालेंगे। इसी के साथ डीएम अनिल धींगरा ने पूरे वार्ड में सीसीटीवी कैमरे लगाए जाने के निर्देश दिए हैं। इनकी पूरे दिन की रिकॉर्डिंग एक पेन ड्राइव में करके सुरक्षित रखी जाएगी। इसी के साथ सभी कैमरों का ऑनलाइन डिसप्ले सीएमओ कार्यालय में कराया जाएगा। शासन और प्रशासन के इन दोनों प्रयासों से फिलहाल कोविड वार्ड के हालात सुधरने के अनुमान लगाए जा रहे हैं।

Share it