Top

मेरठ: छापेमारी के लिए गई प्रदूषण टीम से बदसलूकी, फैक्ट्री का बाॅयलर सील

मेरठ: छापेमारी के लिए गई प्रदूषण टीम से बदसलूकी, फैक्ट्री का बाॅयलर सील


मेरठ। सुप्रीम कोर्ट और एनजीटी के आदेश पर प्रदूषण पर शिकंजा कसने में जुटी प्रदूषण विभाग की टीम को शुक्रवार को परतापुर में विरोध का सामना करना पड़ज्ञ। एक अवैध फैक्ट्री में संचालक और मजदूरों ने प्रदूषण अधिकारियों से अभद्रता की और मीडियाकर्मियों के कैमरे छीनने का प्रयास किया गया। बाद में प्रदूषण विभाग के अधिकारियों ने सख्ती दिखाते हुए फैक्ट्री के बायलर को सील कर दिया और टीम की कार्यवाही में खलल डाल रहे दो कर्मचारियों को हिरासत में लेकर हवालात में डलवा दिया।

दिवाली के बाद वातावरण पहले प्रदूषण को देखते हुए एनजीटी ने सभी जिलों को प्रदूषण चलाने वाली इकाइयों के खिलाफ कार्रवाई करने के आदेश दिए हैं। प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के जेई एसपी सिंह ने बताया कि इसी कड़ी में आज अपने साथी नवनीत पांडे और अन्य कर्मचारियों के साथ परतापुर उद्योगपुरम स्थित स्टार जिपर्स फैक्ट्री में जांच के लिए पहुंचे थे। आरोप है कि पहले तो फैक्ट्री के कर्मचारियों ने घंटों फैक्ट्री का गेट ही नहीं खोला। बाद में टीम भीतर दाखिल हुई तो कर्मचारियों ने प्रदूषण विभाग की टीम के अधिकारियों के साथ अभद्रता शुरू कर दी। इस दौरान मीडियाकर्मियों को भी नहीं बख्शा गया और उनके कैमरे छीनने का प्रयास किया गया। घटना की जानकारी के बाद आनन-फानन में थाने की फोर्स मौके पर पहुंची और हंगामे पर उतारू कर्मचारी पीयूष और प्रमोद को हिरासत में ले लिया। उधर, पुलिस को देख फैक्ट्री मालिक अनुपम मौके से फरार हो गया। बाद में टीम ने इस अवैध फैक्ट्री के बॉयलर को सील कर दिया।


Share it