Top

आठ साल की मासूम बोली, 'पुलिस अंकल पापा से बचा लो'

आठ साल की मासूम बोली, पुलिस अंकल पापा से बचा लो


मेरठ। भारतीय सभ्यता में जहां बेटी को पिता की लाडली कहा जाता है। वहीं जिले में एक कलयुगी पिता अपनी आठ साल की मासूम बेटी की जान का दुश्मन बना है। मासूम का कसूर यह है कि वह अपनी मां की हत्या में गवाह है, जिसका आरोप उसके पिता पर है। बुधवार को अपने नाना-नानी के साथ एसएसपी कार्यालय पहुंची मासूम ने पुलिस अधिकारियों के सामने गुहार लगाते हुए अपने पिता से जान का खतरा जताया।

पल्लवपुरम थाना क्षेत्र के कृष्णा नगर में रहने वाले वीरेंद्र के अनुसार उनकी पुत्री की शादी 10 साल पहले दनकौर के राजपुर निवासी कृष्ण कुमार के साथ हुई थी। वीरेंद्र ने आरोप लगाया कि दो साल पहले कृष्ण कुमार ने उनकी पुत्री की फांसी लगाकर हत्या कर दी। घटना के समय मौके पर मौजूद उनकी छह वर्षीय धेवती शिखा ने अपने पिता को अपनी मां की हत्या करते देख लिया और पुलिस के सामने हकीकत बयान कर दी। इसके बाद पुलिस ने कृष्ण कुमार को हत्या के मामले में जेल भेजते हुए उसकी बेटी को इस मामले में चश्मदीद गवाह बनाया।

वीरेंद्र का आरोप है कि जेल से छूटने के बाद कृष्ण कुमार ने भारती नाम की युवती से कोर्ट मैरिज कर ली है। उन्होंने बताया कि उनकी पुत्री के नाम करीब 8 करोड़ की संपत्ति है, जिसे हड़पने के लिए अब आरोपित कृष्ण कुमार अपनी ही बेटी का दुश्मन बन गया है। दहशतजदा शिखा ने आरोप लगाया कि कुछ दिन पहले उसके पिता और सौतेली मां ने स्कूल से उसके अपहरण का प्रयास किया। पीड़ितों का कहना है कि उन्होंने इस मामले में पल्लवपुरम थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई लेकिन पुलिस आरोपितों के खिलाफ कार्यवाही नहीं कर रही। जन सुनवाई कर रहे सीओ संजीव देशवाल ने पीड़ित परिवार को सुरक्षा का भरोसा देते हुए सीओ दौराला को मामले की जांच सौंपी है।

Share it
Top