Top

दोस्त ने दोस्त की कर दी हत्या, पत्नी गयी थी मायके, दोस्त को हुआ शक कि उसने बेच दिया

दोस्त ने दोस्त की कर दी हत्या, पत्नी गयी थी मायके, दोस्त को हुआ शक कि उसने बेच दिया

फर्रुखाबाद, 02 अगस्त । थाना मोहम्मदाबाद क्षेत्र में रविवार को पत्नी को बेच दिए जाने के शक पर दोस्त ने दोस्त की हत्या कर दी। जनपद में लगातार हत्याओं का ग्राफ बढ़ता जा रहा है। चार दिन के भीतर हुई 5 हत्याओं से जहां जनता में भय और दहशत का माहौल व्याप्त हो गया है, वहीं पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवालिया निशान लग गया है।

थाना क्षेत्र के गांव सिनोड़ा का रहने वाला रामगोपाल अपने नलकूप की छत पर सो रहा था। सुबह उसका शव पेड़ पर फांसी के फंदे पर लटकता पाया गया। मृतक के पुत्र आलोक ने आरोप लगाया कि गांव के ही गुड्डू बाल्मीकि की पत्नी मायके चली गई थी। गुड्डू उसके पिता गोपाल का दोस्त था। गुड्डू को शक हो गया कि उसकी पत्नी को गोपाल ने बेच दिया है। इसी शक के चलते गुड्डू ने उसके पिता की हत्या कर शव पेड़ पर फांसी के फंदे में टांग दिया। घटना को अंजाम देने के बाद गुड्डू गांव से गायब हो गया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव अपने कब्जे में ले लिया है।

कार्यवाहक थानाध्यक्ष अमित शर्मा का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है। तहरीर के आधार पर रिपोर्ट दर्ज की जाएगी। इससे पहले आज इसी थाना क्षेत्र में दूधिया प्रमोद पाल की हत्या कर दी गई। हत्या के बढ़ रहे ग्राफ पर नजर डाली जाए तो पिछले चार दिन में फर्रुखाबाद जिले में 5 हत्याएं हो चुकी हैं।

29 जुलाई को थाना राजेपुर क्षेत्र के ग्राम भुड़िया भेड़ा निवासी 60 वर्षीय मुन्नी देवी पत्नी रतिपाल बुधवार को फर्रूखाबाद दवा लेने के लिए निकलीं थी। वापसी में पांचाल घाट पुलिस चौकी के निकट मुन्नी देवी के ब्लाउज में रखी पर्स छीनने का प्रयास बदमाशों ने किया। विरोध करने पर उन्होंने मारपीट कर दी, जिसके बाद उसे लोहिया अस्पताल ले जाया गया जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया।

31 जुलाई को थाना नवाबगंज क्षेत्र के ग्राम नगला चंदन निवासी 38 वर्षीय सुधा पत्नी रघुनंदन को पड़ोसियों ने लाठी-डंडों से पीटकर मौत के घाट उतार दिया। 1 अगस्त को शमसाबाद थाना क्षेत्र के ग्राम रमापुरजसू निवासी 25 वर्षीय सोमेन्द्र राजपूत अपने नलकूप पर सोने के लिए गया था। सोमेन्द्र को नलकूप के निकट ही गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया गया।

02 अगस्त को कोतवाली मोहम्मदाबाद क्षेत्र के ग्राम गाजीपुर निवासी 40 वर्षीय प्रमोद कुमार पुत्र अनोखे लाल पाल अपने घर से लगभग 300 मीटर दूर खेत में नित्य कर्म करने के लिए सुबह 4 बजे गया था। उसी समय उसके सीने में गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया गया। 4 दिन के भीतर 5 हत्याएं होने से जिले में भय व दहशत का माहौल व्याप्त हो गया है। लोग पुलिस की कार्य प्रणाली पर सवालिया निशान लगाने लगे हैं।

Share it