Top

पीएम को भेजे जाएंगे 10 लाख पोस्टकार्ड, जातिगत आरक्षण ख़त्म करने की मुहिम,वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया जायेगा

गाजियाबाद -देश में जातिगत आरक्षण व्यवस्था समाप्त करने की मुहिम के तहत जन अधिकार मोर्चा एक अभियान शुरू कर रहा है जिसमें 10 लाख पोस्टकार्ड हस्ताक्षर करके प्रधानमंत्री को भेजे जाएंगे।

जन अधिकार मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजेश शर्मा ने बताया कि 18 अक्टूबर से लेकर 25 जनवरी तक चलने वाला यह पोस्ट कार्ड हस्ताक्षर अभियान 10 राज्यों में चलाया जाएगा और इसके जरिए जातिगत आरक्षण के विरोध में मुहिम चलाई जाएगी। उन्होंने बताया कि इस अभियान में 1000000 हस्ताक्षर कराकर वर्ल्ड बुक ऑफ रिकॉर्ड में भी नाम दर्ज कराया जाएगा। श्री शर्मा ने बताया कि जातिगत आरक्षण को खत्म कर आर्थिक आधार पर आरक्षण देने के लिए यह मुहिम चलाई जा रही है। गाजियाबाद में इस मुहिम का शुभारंभ भारतीय जनता पार्टी के नेता शांति प्रकाश जाटव ने किया। उन्होंने कहा कि वे स्वयं रिजर्व कैटेगरी से आते हैं लेकिन वह खुद भी जातिगत आरक्षण का विरोध करते हैं क्योंकि इससे वास्तविक जरूरतमंद लोगों को आरक्षण का लाभ नहीं मिल पाता है और जिन्हें आवश्यकता नहीं होती ,वही पीढ़ी दर पीढ़ी इसका लाभ लेते रहते हैं, इसलिए वह जन अधिकार मोर्चा की इस जातिगत आरक्षण खत्म करने की मुहिम के साथ हैं और इस पोस्ट कार्ड अभियान का समर्थन करने यहां पहुंचे हैं।

जन अधिकार मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजेश शर्मा का कहना है कि संविधान में आरक्षण की व्यवस्था एक नियत समय और निर्धारित अवधि के लिए थी लेकिन आज के समय में कोई भी राजनीतिक पार्टी इसके विरोध में कोई फैसला लेती नजर नहीं आती है ,साथ ही ऐसी मुहिम का कुछ संगठन भी विरोध शुरू कर देते हैं। उनका कहना है कि आरक्षण जरूरतमंद लोगों को मिलना चाहिए जिससे उन्हें मदद मिले और वह गरीबी रेखा से आगे आ सके। वर्तमान में जो लोग इस जातिगत आरक्षण से फायदा उठा रहे हैं उन्हें इसकी जरूरत नहीं है. श्री शर्मा ने बताया कि 10 राज्यों में यह अभियान उनका संगठन चला रहा है जिसे 25 जनवरी तक पूरा कर के प्रधानमंत्री को यह पोस्ट कार्ड भेजे जाएंगे।

Share it