Top

गाजियाबाद रेलवे पुलिस ने ट्रेन से पकड़े बाल मजदूरी के लिए लाये जा रहे बच्चे, आसाम से लाये जा रहे थे

गाजियाबाद। लगातार छोटे मासूम बच्चों से बाल मजदूरी कराई जा रही है, जिसको लेकर प्रदेश सरकार और देश की सरकार बहुत ही गंभीर है। यहां तक की बाल मजदूरी के लिए कठोर कानून बनाए गए हैं लेकिन ज्यादातर लोग बाल मजदूरी कराने से बाज नहीं आ रहे हैं।

गाजियाबाद जीआरपी थाना इन्चार्ज अशोक सिसोदिया को मुखबिर से मालूम चला कि अवध आसाम एक्सप्रेस से कुछ बच्चे आसाम से लाए जा रहे हैं जिनसे बाल मजदूरी कराई जानी है, उसको लेकर जीआरपी पुलिस ने एनजीओ की मदद से ऐसे बच्चों को रेस्क्यू किया है।

जिन्हें चाइल्ड ट्रैफिकिंग करके एनसीआर में लाया गया था ,आसाम अवध एक्सप्रेस ट्रेन से इन बच्चों को रेस्क्यू किया गया। इन्हें चाइल्ड लेबर के लिए ले जाया जा रहा था। इन बच्चों की उम्र 9 साल से 14 साल के बीच है। मामले में पांच आरोपियों को भी पकड़ा गया है। जिन से पुलिस पूछताछ कर रही है। एनजीओ ने दिल्ली पुलिस को सूचना दी थी, जिसके बाद गाजियाबाद रेलवे पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए बच्चों को अलग-अलग डिब्बों में से रेस्क्यू किया। इन सभी बच्चों को बाल मजदूरी कराने के लिए दिल्ली एनसीआर में भेजा जाता है , गैंग के लोग मोटी कमीशन पर बाहर से मासूम बच्चों को बाल मजदूरी के लिए लेकर आते हैं ।गाजियाबाद जीआरपी थाना पुलिस को आज यह बहुत बड़ी कामयाबी मिली है।

Share it