Top

पूर्व सांसद रमाकांत यादव ने बताया अपनी जान को खतरा

पूर्व सांसद रमाकांत यादव ने बताया अपनी जान को खतरा

पूर्व सांसद रमाकांत यादव ने अपने आप को असुरक्षित महसूस करते हुए अपनी जान को खतरा बताया है। उन्होंने बताया है कि इस सबंध में उन्होंने मुख्यमंत्री, प्रमुख सचिव गृह, शासन व जिला प्रशासन को कई बार पत्र सौपा है लेकिन कोई भी सुनवाई नही करी गयी ।

यादव का कहना है कि "कुछ संदिग्ध प्रकार के कुख्यात अपराधी ए के 47 से लैस होकर ईद गिर्द नजर आ रहे हैं। मुझे आंशका है कि इन लोगो से मेरी जान को खतरा है। इस सबंध में मैने डीएम,एसपी व शासन स्तर पर पत्र भेजकर सुरक्षा की मांग की थी लेकिन कोई सुनवाई नही हो रही है।"

बतादें कि पूर्व सांसद के पास वाई श्रेणी की सुरक्षा थी जो की लोक सभा चुनाव के बाद हटा दी गई है ।

उनके मुताबिक पूर्वांचल के ज़िले जैसे आजमगढ़, ग़ाज़ीपुर, बलिया,जौनपुर व वाराणसी के कुछ कुख्यात बदमाश आधुनिक असलहों से लैस होकर जिले के विभिन्न क्षेत्रों में घुमते नजर आ रहे है।

पूर्व सांसद के अनुसार उनकी सुरक्षा की मांग शासन स्तर से रोक दी गयी है। "मैने तो यह भी शासन से मांग किया है की जो धन लगता है उसे भी निर्वहन करने के लिए तैयार हूं, पर सुरक्षा मिल जाये।"

रमाकांत यादव ने यहाँ तक आरोप लगाया कि सादे वेश में पुलिस भी हमला कर सकती है। इस मामले में एसपी प्रो त्रिवेणी सिंह ने बताया कि पूर्व सांसद ने जब पूर्व में पत्र दिया था तभी हमने एलआईयू अभिसूचना विभाग सहित पुलिस से जांच कराई तो सभी रिपोर्ट में उनपर जान का कोई खतरा नही निकला है । वैसे भी उनके परिवार में कुल 18 से ज्यादा लाइसेंसी असलहे दिए गए हैं । अगर इसके बाद भी पूर्व सांसद को यह जानकारी है की आधुनिक असलहे लेकर कुछ लोग साजिश में लगे हैं या किसी पुलिस टीम पर उन्हें शंका है हमें बताएं, गोपनीयता से इसकी जांच कराई जाएगी और कोई मिलता है तो कड़ी कार्यवाई होगी।

Share it
Top