Top

अलवर में चीन से लाये गये लोगों की देखभाल जारी

अलवर में चीन से लाये गये लोगों की देखभाल जारी



अलवर। राजस्थान में जयपुर और अलवर के चिकित्सा अधिकारियों ने आज ईएसआईसी मेडिकल कॉलेज अलवर में चीन के वुहान शहर से आ रहे लोगों को रहने की व्यवस्थाओं का जायजा लिया।

अलवर के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ ओमप्रकाश मीणा ने बताया कि अतिरिक्त मुख्य सचिव (चिकित्सा स्वास्थ्य सेवाओं) के निर्देश पर ईएसआईसी स्कीम के निदेशक डॉ वीके माथुर की अगुवाई में उपनिदेशक जयपुर डॉक्टर यदुराज सिंह, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ ओमप्रकाश मीणा, नोडल ऑफिसर ईएसआईसी डॉक्टर रवि शर्मा एवं उप मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ छबील कुमार ने ईएसआईसी हॉस्पिटल का दौरा कर के व्यवस्थाओं का जायजा लिया।

दल के सदस्यों ने चीन से लाए जाने वाले लोगों को 28 दिन तक प्रोटोकॉल के अनुसार निगरानी में रखने के लिये आवश्यक सुविधाओं की उपलब्धता की जानकारी ली। जिससे कोरोना वायरस के फैलने से रोका किया जा सके। उन्होंने बताया कि क्षेत्रीय निदेशक ईएसआईसी क्षेत्रीय कार्यालय राजस्थान में इंजीनियर प्रशासनिक पैरामेडिकल स्टाफ को नियुक्त कर दिया है। चीन से आने वाले लोगों को हॉस्टल में हाउसकीपिंग, लॉन्ड्रिंग, मेडिकल, वाईफाई, सुरक्षा और भोजन की व्यवस्था डिपार्टमेंटल स्टोर प्रोटोकॉल के अनुसार उपलब्ध है। बाहरी व्यक्ति को रोकने के लिए त्रिस्तरीय व्यवस्था की गई है। हॉस्टल में मेडिकल, हाउसकीपिंग, मेंटेनेंस स्टाफ प्रोटोकॉल अनुसार सुरक्षा उपकरण पहनकर एवं प्रशिक्षण प्राप्त कर ही हॉस्टल के अंदर प्रवेश कर सकते हैं । बाहर के व्यक्तियों का हॉस्टल में प्रवेश पूर्णत प्रतिबंधित रहेगा।

उन्होंने बताया कि क्षेत्रीय निदेशालय ईएसआईसी राजस्थान द्वारा 30 नर्सिंग एवं पैरामेडिकल स्टाफ को अस्पताल में नियुक्त कर दिया गया है। जबकि 48 पहले से ही कार्यरत हैं। चीन से आने वाले व्यक्तियों को क्वॉरेंटाइन में रखने के लिये एक नर्सिंग हॉस्टल में तीन कमरे तैयार किए गए। एक कमरे में तीन लोगों को ठहराया जाएगा। कुल 288 बेड तैयार किए जा चुके हैं। इसके अतिरिक्त 160 के छात्राओं के हॉस्टल को बैकअप के रूप में तैयार किया गया है।


Share it