Top

घर के बाहर शराब पीने से रोका तो तोडफ़ोड़ के बाद गाड़ी में लगा दी आग


उदयपुर। कोई अनजान व्यक्ति घर के बाहर बैठकर शराब पी रहा हो तो उसे मना करने से पहले दस बार सोच लीजियेगा, हो सकता है कि वे आप पर भारी पड़ जाएं और आपके साथ मारपीट भी कर बैठें, नहीं तो आपके सोने के बाद आपके घर में आग लगा दें।

यह बात हम इसलिए कह रहे हैं क्योंकि शांत और सुहाने कहे जाने वाले झीलों के शहर उदयपुर में मंगलवार देर रात ऐसी ही वारदात को कुछ बदमाशों ने अंजाम दिया। वैसे भी उदयपुर में पिछले दिनों से बदमाश बेखौफ हैं। पुलिस की वर्दी का तो जरा भी भय नजर नहीं आ रहा। बैंक डकैती, चेन स्नेचिंग, लगातार होती चोरियां वैसे भी आम आदमी की सुरक्षा पर सवाल खड़ा कर चुकी है और मंगलवार रात की घटना ने तो हर उस सामान्य व्यक्ति को हिला दिया जो अपने घर और घर के आसपास सुकून चाहता है।

हुआ यूं कि उदयपुर हिरण मगरी थानाक्षेत्र के विद्या नगर निवासी विकास त्रिपाठी के घर के बाहर मंगलवार रात को कुछ बदमाश शराब पी रहे थे। उन्होंने घर से निकल कर उन्हें वहां बैठकर शराब नहीं पीने को कहा तो पीने वालों ने पहले तो अपने पिता के किसी बड़े पद पर होने की धौंस जमाई। फिर भी त्रिपाठी ने कहा कि किसी के घर के बाहर बैठकर शराब पीना ठीक नहीं होता तो उन्होंने कहा कि यहीं बैठकर पीयेंगे और विकास पर पत्थर मारे। विकास घर के अंदर भागे तो उन्होंने घर के अंदर खड़ी कार के कांच फोड़ दिए। इसके बाद वे कुछ देर बाद वापस आए और कार को आग भी लगा दी। यह तो गनीमत है कि ज्यादा बड़ी बात नहीं हुई वरना विकास के परिवार की जान पर आ बनती। भला हो विकास के पड़ोसी का जिसने इन बदमाशों के फोटो खींच लिए थे। अब पुलिस उनकी शिनाख्त भी कर चुकी है। बस क्षेत्रवासियों को उनकी गिरफ्तारी और कानूनन सबक का इंतजार है।

विकास ने बताया कि गाड़ी के कांच फोड़ते ही उन्होंने हिरण मगरी थानाधिकारी हनुवंत सिंह को फोन कर दिया था, उन्होंने थाने में फोन कर रिपोर्ट देने को कहा। विकास ने रिपोर्ट भी दर्ज करा दी, लेकिन इसके कुछ देर बाद उन बदमाशों ने कार को आग लगा दी।

घटना से आक्रोशित क्षेत्रवासियों ने जली हुई कार बुधवार सुबह सेक्टर-4 के चौराहे पर लाकर यातायात अवरुद्ध कर दिया और बदमाशों की शीघ्र गिरफ्तारी और सख्त सजा की मांग की। सभी का कहना था कि ऐसे बदमाशों को कानून का खौफ नहीं होगा तो उदयपुर में सुकून से रहना मुश्किल हो जाएगा।

Share it