Top

फेसबुक पर स्वीफ्ट कार का एड देखा: शातिर ने खाते में डलवा दिए सवा लाख

फेसबुक पर स्वीफ्ट कार का एड देखा: शातिर ने खाते में डलवा दिए सवा लाख


अप्रैल से शुरू हुई घटना अब तक कार नहीं पहुंची

जोधपुर। शहर में रेडीमेड कपड़ों की दुकान चलाने वाले व्यापारी को फे सबुक पर स्वीफ्ट कार का एड देखना भारी पड़ गया। कार खरीद की इच्छा से वह अपने खाते से सवा लाख से ज्यादा की रकम गवां बैठा। शातिर ने पेटीएम करवा कर यह रकम अपने खाते डलवा दी। अब तक कार नहीं पहुंंची। फोन भी बंद है। रविवार की रात को पीडि़त सूरसागर थाने पहुंचा और मामला दर्ज करवाया।

सूरसागर थानाधिकारी ईश्वरचंद्र पारिक ने बताया कि सोढ़ों की ढाणी का रहने वाला विक्रम पुत्र अशोक सोलंकी रेडिमेड कपड़ों का व्यापार करता है। उसकी दुकान पावटा सी रोड पर आई है। गत अप्रेल माह में उसने फे सबुक ओएलएक्स पर स्वीफ्ट कार बिकने का विज्ञापन देखा था। तब इस पर दिए गए नंबर से संपर्क किया। सामने वाले ने खुद का नाम रेंवतराम होना बताया और कार की कीमत 3.80 लाख बताई। इस पर कार के लिए पहले 11 हजार रूपये पेटीएम करवाने की बात की। फिर बोर्डर पार के लिए 21 हजार 150, जीएसटी के लिए 26 हजार, कोरियर एवं मद के लिए 51 हजार 150 रूपये लिए। कुल मिलाकर उससे एक लाख छबीस हजार तीन सौ रूपए उस शख्स ने पेटीएम अपने खाते में करवा लिए। मगर काफी दिनों तक ना तो कार मिली और ना ही रकम मिल पाई। अब उस शातिर ने अपना फोन भी बंद कर दिया। लुटा पिटा कपड़ा व्यापारी रविवार रात में सूरसागर थाने पहुंचा और मामला दर्ज करवाया। पुलिस ने धोखाधड़ी एवं आईटी एक्ट में तफ्तीश आरंभ की है।

Share it