Top

एमसीयू को शिक्षण, प्रशिक्षण और शोध के क्षेत्र में अग्रणी बनाना है : प्रो. केजी सुरेश

एमसीयू को शिक्षण, प्रशिक्षण और शोध के क्षेत्र में अग्रणी बनाना है : प्रो. केजी सुरेश

भोपाल। माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय के नवनियुक्त कुलपति प्रो. केजी सुरेश ने बुधवार को विश्वविद्यालय पहुँच कर कार्यभार ग्रहण कर लिया है। इस अवसर पर विश्वविद्यालय ने कुलसचिव प्रो. (डॉ.) अविनाश वाजपेयी, सभी विभागाध्यक्षों और अधिकारी-कर्मचारियों ने प्रो. सुरेश का स्वागत किया। इस अवसर पर उन्होंने विश्वविद्यालय की गतिविधियों की जानकारी प्राप्त की।

कुलपति प्रो. सुरेश ने कार्यभार संभालने के बाद पहला आदेश विश्वविद्यालय के कर्मचारियों के हित में लिया। उन्होंने कर्मचारियों के बच्चों की उच्च शिक्षा और कन्या विवाह के लिए ऋण राशि में बढ़ोतरी कर दी है। कर्मचारी लम्बे समय से यह मांग कर रहे थे। इस अवसर पर कुलपति ने सभी विभागाध्यक्षों के साथ बैठक कर कहा कि उनका लक्ष्य विश्वविद्यालय को शिक्षण, प्रशिक्षण, शोध एवं प्रकाशन के क्षेत्र में अग्रणी बनाना है।

एमसीयू के नवनियुक्त कुलपति प्रो. केजी सुरेश भारतीय जनसंचार संस्थान, नई दिल्ली (आईआईएमसी) के महानिदेशक रहे हैं। वे स्कूल ऑफ़ मार्डन मीडिया, यूनिवर्सिटी ऑफ़ पेट्रोलियम एंड एनर्जी स्टडीज़ (यूपीईएस) देहरादून में डीन के रूप में भी अपनी सेवाएं दे चुके हैं। प्रो. सुरेश इससे पहले डीडी न्यूज में सीनियर कंसल्टिंग एडिटर, एशियानेट न्यूज़ नेटवर्क में संपादकीय सलाहकार और प्रेस ट्रस्ट ऑफ इंडिया में मुख्य राजनीतिक संवाददाता रह चुके हैं।

जानकारी के अनुसार 26 सितंबर 1968 को जन्मे प्रो. केजी सुरेश की शिक्षा दिल्ली विश्वविद्यालय, भारतीय विद्या भवन और गुरु जम्भेश्वर यूनिवर्सिटी ऑफ साइंस एण्ड टेक्नोलोजी, हिसार से हुई है। प्रो. सुरेश जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय की अकादमिक परिषद, सोसाइटी ऑफ सत्यजीत रे फिल्म एंड टेलीविजन इंस्टीट्यूट, कोलकाता, भारतीय सामाजिक विज्ञान अनुसंधान परिषद की अनुसंधान समिति, सलाहकार परिषद, दिल्ली स्कूल ऑफ जर्नलिज्म, दिल्ली विश्वविद्यालय, अकादमिक परिषद, केंद्रीय विश्वविद्यालय हिमाचल प्रदेश, स्कूल बोर्ड ऑफ टैगोर स्कूल ऑफ क्रिएटिव आर्ट्स एंड कम्युनिकेशन स्टडीज, असम विश्वविद्यालय, सिलचर; विज्ञान और प्रौद्योगिकी संचार, विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग की राष्ट्रीय परिषद की पुरस्कार चयन समिति से भी जुड़े रहे हैं।

प्रो. केजी सुरेश को हिंदी पत्रकारिता और जनसंचार में उत्कृष्ट योगदान के लिए प्रतिष्ठित गणेश शंकर विद्यार्थी पुरस्कार के लिए भी चुना गया है। उन्हें यह पुरस्कार राष्ट्रपति द्वारा प्रदान किया जाएगा। एजेंसी/हिस

Share it