Top

भारत बचाओ रैली: मोदी सरकार पर बरसे कांग्रेस शासित राज्यों के मुख्यमंत्री

भारत बचाओ रैली: मोदी सरकार पर बरसे कांग्रेस शासित राज्यों के मुख्यमंत्री


नई दिल्ली। कांग्रेस की 'भारत बचाओ रैली' में छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ व राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत सभा को संबोधित करते हुए केंद्र की मोदी सरकार पर भेदभाव का आरोप लगाया। तीनों राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने केंद्र सरकार को अर्थव्यवस्था से लेकर हर मोर्चे पर नाकाम बताते कहा कि मोदी सरकार कांग्रेस शासित राज्यों से भेदभाव कर रही है।

शनिवार को यहां रामलीला मैदान में आयोजित 'भारत बचाओ रैली' को संबोधित करते हुए छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि केंद्र सरकार राज्यों में चल रहे विकास कार्यों में अड़ंगा लगा रही है। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर किसानों के हित में बाधा डालने का आरोप लगाते हुए कहा कि राज्य में कांग्रेस की सरकार किसानों को धान की फसल का 2500 रुपए प्रति कुंतल का समर्थन मूल्य देना चाहती है लेकिन मोदी सरकार ऐसा करने से रोक रही है।

उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ अकेला राज्य है जहां किसानों से धान के फसल की खरीद 2500 रुपये प्रति क्विंटल की दर से की गई । उन्होंने दावा किया कि किसानों को धान की फसल का उचित समर्थन मूल्य दिए जाने के कारण ही उनके राज्य में पिछले एक साल में किसी किसान ने आत्महत्या नहीं की।

उन्होंने कहा कि मोदी सरकार कुछ भी कर ले फिर भी छत्तीसगढ़ के धान के किसानों के साथ न्याय होगा और उनकी जेब में 2500 रुपये प्रति क्विंटल आएंगे।

वहीं मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी राष्ट्रवाद की बात करते हैं। मैं उन्हें चुनौती देता हूं कि वह केवल अपने स्वतंत्रता सेनानियों के नाम गिना दें।

कमलनाथ ने कहा कि कांग्रेस का इतिहास बलिदानों से भरा है। भाजपा सरीखे दल कांग्रेस को राष्ट्रवाद का पाठ नहीं पढ़ा सकते।

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने लाखों भारतीयों के दर्द को आवाज दी। उन्होंने मोदी सरकार द्वारा देश की अर्थव्यवस्था को नष्ट किए जाने के खिलाफ आवाज उठाई। बघेल ने कहा कि भाजपा की अगुवाई वाली सरकार केवल जलाना जानती है। ये केवल समाज को काटना और बांटना जानते हैं, इसके उलट कांग्रेस देश के लिए जान देना जानती है।

गहलोत ने कहा कि सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) लगातार नीचे गिरता जा रहा है। इस कारण लोगों के जीवन में निराशा का माहौल पसरता जा रहा है। पूर्व प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह के नेतृत्व की संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) सरकार के दौरान कांग्रेस पार्टी ने एक मजबूत अर्थव्यवस्था दी थी, जिसे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व की राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) ने बर्बाद कर दिया ।

गहलोत ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नेतृत्व की केंद्र सरकार के तहत लोगों को अपने पैसे के लिए डर लगने लगा है। उनकी गाढ़ी कमाई सुरक्षित नहीं है। यहां तक कि देश के बैंकों की भी हालत खराब हो गई है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार का 'सबका साथ, सबका विकास' का नारा महज एक दिखावा है ।

राजस्थान के मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस पार्टी इस महान राष्ट्र के लोगों की आवाज है और हम हमेशा ऐसे मुद्दों को उठाएंगे जो आम लोगों के हितों की रक्षा के लिए आवश्यक हैं।

पुडुचेरी के मुख्यमंत्री वी. नारायणसामी भी मंच पर उपस्थित रहे किंतु अस्वस्थ होने के कारण उन्होंने सभा को संबोधित न किया।


Share it
Top