Top

सियाचिन ग्लेशियर में हिमस्खलन से पंजाब के तीन जवान हुए शहीद

सियाचिन ग्लेशियर में हिमस्खलन से पंजाब के तीन जवान हुए शहीद


-आज देर रात तक उनके पार्थिव शरीर पहुंचेंगे पैतृक गांव

चंडीगढ़। सोमवार दोपहर सियाचिन ग्लेशियर में एवलांच से शहीद हुए 6 जवानों में से तीन जवान पंजाब के हैं। सियाचिन ग्लेशियर में पेट्रोलिंग कर रहे जवान हिमस्खलन में शहीद हो गए थे। इनमें से पंजाब के तीन जवानों की शिनाख्त हो गई है। इन शहीदों में होशियारपुर के सैडोन गांव निवासी सिपाही डिंपल कुमार, अमृतसर के गांव घोनेवाल निवासी नायक मनिंदर सिंह, संगरूर के गांव गोवारा निवासी सिपाही वीरपाल सिंह शामिल हैं।

पेट्रोलिंग पार्टी साथियों समेत चौकी पर बीमार हुए एक व्यक्ति को निकालने गई थी। करीब 19 हजार फुट की ऊंचाई पर काजी और बाना पोस्ट के बीच हिमस्खलन हुआ जिसके करण पेट्रोलिंग पार्टी इसकी चपेट में आ गई। शहीद जवान मनिंदर सिंह (28) का पार्थिव शरीर बुधवार देर रात तक पैतृक गांव लाया जाएगा। शहीद मनिंदर ने 12 साल पहले रामगढ़ पंजाब सेंटर में ज्वॉइन किया था। अब वे 3 पंजाब रेजीमेंट में थे, जिसकी तैनाती बेस कैंप 102 ब्रिगेडियर ग्लेशियर में थी।

होशियारपुर के जवान डिंपल के परिवार एवं गांव में सदमे की लहर है। शहीद डिंपल के पिता जगजीत सिंह भी सीआरपीए में तैनात हैं। शहीद के भाई रविंदर सिंह ने बताया कि उसे अपने भाई की शहादत पर गर्व है। सियाचिन ग्लेशियर में शहीद हुए तीनों जवानों पार्थिव शरीर बुधवार देर रात तक उनके पैतृक गांव पहुंचने की संभावना है।


Share it