Top

कोरोना पीड़ित साढ़े 17 लाख के करीब, स्वस्थ होने वाले 11.44 लाख, जुलाई में मिले 11 लाख से अधिक संक्रमित

कोरोना पीड़ित साढ़े 17 लाख के करीब, स्वस्थ होने वाले 11.44 लाख, जुलाई में मिले 11 लाख से अधिक संक्रमित

नयी दिल्ली, - देश में कोरोना वायरस 'कोविड-19' का प्रकोप पूरे वेग पर है और राज्यों खासकर दो बड़े प्रदेशों महाराष्ट्र तथा आंध्र प्रदेश में नौ-नौ हजार से अधिक नये मामले आने से शनिवार को संक्रमितों का आंकड़ा 17.50 लाख के करीब पहुंच गया।

कोरोना वायरस को लेकर बिगड़ती स्थिति के बीच संतोष की बात यह हो सकती है कि मरीजों के स्वस्थ होने की दर में भी लगातार सुधार होने से पीड़ितों की संख्या 11.44 लाख के पार निकल गई है।

इस वैश्विक महामारी की चपेट में आने वाले नये मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ने के कारण देश में अकेले जुलाई महीने में इस बीमारी से 11 लाख से अधिक लोग संक्रमित हुये जबकि 19 हजार से ज्यादा लोगों को जान गंवानी पड़ी है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार एक जुलाई की सुबह कोविड-19 के संक्रमितों का कुल आंकड़ा 5,85,493 पर और मृतकों की संख्या 17,400 पर थी। आज सुबह जारी आंकड़ों के मुताबिक संक्रमितों की संख्या बढ़कर 16,95,988 और मृतकों की संख्या 36,511 पर पहुंच गई है। इस प्रकार जुलाई महीने में कुल 11,10,495 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हुये जबकि 19,111 लोगों को नहीं बचाया जा सका और औसतन रोजना 35,822 लोग इस महामारी की चपेट में आये।

इससे पहले जून में 3,94,958 लोग कोविड-19 से संक्रमित हुये थे जबकि 12,006 लोगों की मौत हुई थी। मई में कुल 1,55,492 नये मामले सामने आये थे। आंकड़ों पर नजर डाली जाये तो कुल संक्रमितों में से 65.48 फीसदी मामले जुलाई में सामने आये हैं। महामारी से जान गंवाने वालों में 52.34 प्रतिशत की मृत्यु जुलाई में हुई है। जुलाई की शुरुआत में रोजना 18-19 हजार नये मामले आ रहे थे, वहीं अब हर दिन 55 हजार से अधिक लोग इस बीमारी की चपेट में आ रहे हैं। इस मामले में अमेरिका और ब्राजील के बाद भारत तीसरे स्थान पर है।

इतनी बड़ी संख्या में लोगों के संक्रमित होने के बावजूद सरकार अभी महामारी के सामुदायिक प्रसार की बात से इनकार कर रही है। सरकार का मानना है कि भारत दुनिया के अन्य देशों की तुलना में कोविड-19 को नियंत्रित करने में काफी सफल रहा है। देश में प्रति एक लाख आबादी पर संक्रमितों की संख्या बहुत कम है।

राज्यों से प्राप्त रिपोर्ट के मुताबिक आज संक्रमण के सबसे अधिक नये मामले सर्वाधिक गंभीर रूप से प्रभावित महाराष्ट्र से सामने आये जहां 9601 मामलों के साथ संक्रमितों की संख्या 4.31 लाख के पार पहुंच गयी जबकि 10,725 लोग रोगमुक्त हुए हैं जिसके बाद स्वस्थ होने वालों की कुल संख्या 2,66,883 हो गयी है। सबसे अधिक 322 मौतें भी यहीं हुई हैं जिससे मृतकों की संख्या 15316 हो गयी है।

आंध्र प्रदेश कोरोना वायरस का नया हाॅटस्पाॅट बनता जा रहा है। यहां पिछले तीन दिनों से 10 हजार से अधिक मामले आने का क्रम भले ही टूटा लेकिन फिर भी आज 9276 नये मामले सामने आये।

आंध्र प्रदेश कुल डेढ़ लाख से अधिक मामलों के साथ दिल्ली (1.36 लाख) को पीछे छोड़ते हुए संक्रमण के मामले में तीसरे स्थान पर पहुंच गया है। संक्रमण के मामले में तमिलनाडु 2.51 लाख से अधिक मामलों के साथ दूसरे स्थान पर है। मौत के मामले में यह दिल्ली (3,989) को पीछे छोड़ते हुए 4034 मौत के साथ अब दूसरे स्थान पर आ गया है।

देश में अब दो दिन में एक लाख संक्रमण मामले आने लगे हैं। इससे पहले तीन दिनों में एक लाख मामले सामने आ रहे थे।

कोरोना वायरस से गंभीर रूप से प्रभावित तमिलनाडु (5879), कर्नाटक (5172), उत्तर प्रदेश (3587), बिहार (3521), पश्चिम बंगाल (2589) और तेलंगाना (2083) में इस महामारी का प्रकोप तेजी से बढ़ रहा है। उत्तर प्रदेश में संक्रमितों की संख्या 90 हजार के करीब पहुंच गयी है।

इस दौरान राहत की बात यह रही कि मरीजों के स्वस्थ होने की दर आज बढ़कर 65.39 फीसदी पहुंच गयी जो शुक्रवार को 64.57 प्रतिशत थी। मृत्यु दर पहले के 2.15 प्रतिशत की तुलना में आज घटकर 2.13 फीसदी रह गयी।

देर शाम उक्त सात राज्यों को मिलाकर पूरे देश में 52,910 नये मामले तथा 840 और लोगों की मौत हुई है जबकि इस दौरान 49,010 लोग स्वस्थ भी हुए हैं।

'कोविड19 इंडियाडॉटओआरजी' के आंकड़ों के अनुसार देश में कोरोना वायरस संक्रमण के कुल 17,49,964 मामलों की आज रात तक पुष्टि हो चुकी है। इस प्रकार सुबह से लेकर देर रात तक 52 हजार से अधिक नये मामले आ चुके हैं। इस दौरान 49 हजार से अधिक और लोगों के संक्रमण से निजात पाने के बाद अब तक कुल 11,44,657 मरीज स्वस्थ हुए हैं जबकि 37,391 लोगों की इस महामारी से मौत हो चुकी है। अन्य 5,67,484 सक्रिय मामलों का विभिन्न अस्पतालों में इलाज किया जा रहा है।

इस प्रकार बीमार मरीजों की तुलना में ठीक हुए रोगमुक्त लोगों की संख्या बढ़कर 5.77 लाख के पार पहुंच गयी है। फिलहाल यह अंतर 5,77,173 है।

देश में वर्तमान में कोरोना वायरस कोविड-19 के संक्रमण के पॉजिटिव मामले आने की दर (पाॅजिटिविटी दर) 8.07 प्रतिशत है और केंद्र सरकार राज्यों तथा केंद्र शासित प्रदेश के साथ मिलकर इसे पांच प्रतिशत से कम करने के लिये प्रयासरत है। देश के 19 राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों में कोरोना रिकवरी दर राष्ट्रीय औसत रिकवरी दर से अधिक दर्ज की गयी है। राजधानी दिल्ली 89 फीसदी रिकवरी दर के साथ शीर्ष पर है।

इस बीच, पहली बार देशभर में एक दिन में कोरोना वायरस कोविड-19 के रिकॉर्ड 6.42 लाख से अधिक नमूनों की जांच की गयी है। भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक 30 जुलाई को देशभर में कोरोना वायरस के संक्रमण का पता लगाने के लिए 6,42,588 नमूनों की जांच की गयी और इसके साथ ही अब तक जांच किये गये नमूनों की कुल संख्या 1,88,32,970 हो गयी है।

इस बीच, पश्चिम बंगाल में 2589 नये मामले सामने आने से अब तक 72,777 लोग संक्रमित हो चुके हैं तथा 1,629 लोगों की मौत हुई है जबकि 50,517 मरीज स्वस्थ भी हुए हैं। बंगाल में आज 20 हजार से अधिक जांच हुईं।

देश का पश्चिमी राज्य गुजरात संक्रमण के मामले में अब नौवें स्थान पर है, लेकिन मृतकों की संख्या के मामले में यह महाराष्ट्र, तमिलनाडु और दिल्ली के बाद चौथे स्थान पर है। गुजरात में 62,574 लोग वायरस से संक्रमित हुए हैं तथा 2,460 लोगों की मौत हुई है। राज्य में 45,884 लोग इस बीमारी से स्वस्थ भी हुए हैं।

दक्षिण भारतीय राज्य तेलंगाना में कोरोना संक्रमितों की संख्या 64,786 हो गयी है और यह संक्रमण के मामले में अब आठवें स्थान पर है। राज्य में इस महामारी से अब तक 530 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि 46,502 लोग इस महामारी से ठीक हुए हैं। तेलंगाना में आज 21 हजार जांच हुई।

बिहार में रिकाॅर्ड 3521 नये मामले आने के साथ ही संक्रमितों की संख्या बढ़कर 54,508 हो गयी तथा मृतकों की संख्या 312 हो गयी है जबकि अब तक 35,473 लोग रोगमुक्त भी हुए हैं।

इसके बाद राजस्थान में भी कोरोना संक्रमितों की संख्या 43,243 हो गयी है और अब तक 694 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि 30,668 लोग पूरी तरह ठीक हुए हैं।

कोरोना की महामारी से मध्य प्रदेश में 876, हरियाणा में 428, जम्मू-कश्मीर में 388, पंजाब में 405, ओडिशा में 225, झारखंड में 110, असम में 101, उत्तराखंड में 80, केरल में 82, छत्तीसगढ़ में 55, पुड्डुचेरी में 51, गोवा में 48, चंडीगढ़ में 18, हिमाचल प्रदेश में 13, त्रिपुरा में 21, लद्दाख में सात, मेघालय में पांच, नागालैंड में चार, अरुणाचल प्रदेश में तीन, अंडमान निकोबार द्वीप समूह में सात, दादर-नागर हवेली एवं दमन-दीव में दो लोगों तथा सिक्किम में एक व्यक्ति की मौत हुई है।

Share it