Top

यूपी: आलोक सिन्हा नए कृषि उत्पादन आयुक्त, 17 आईएएस इधर से उधर

यूपी: आलोक सिन्हा नए कृषि उत्पादन आयुक्त, 17 आईएएस इधर से उधर

लखनऊ। उत्तर प्रदेश सरकार ने आज 17 आईएएस अधिकारियों के तबादले किये हैं। प्रशासनिक सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार मुख्य सचिव के पद पर नियमित नियुक्ति के बाद शासन स्तर पर 17 आईएएस अधिकारियों के तबादले किए गए हैं। कृषि उत्पादन आयुक्त (एपीसी) की जिम्मेदारी आलोक सिन्हा को सौंपी गई है। इसके अलावा कृषि, पंचायतीराज, चिकित्सा स्वास्थ्य सहित कई विभागों के अफसरों को इधर से उधर किया गया है। वेटिंग में चल रहीं कल्पना अवस्थी और मोनिका सहगल गर्ग को नई तैनाती मिल गई है। मुख्य सचिव के पद पर राजेंद्र कुमार तिवारी की नियमित नियुक्ति से कृषि उत्पादन आयुक्त व उच्च शिक्षा विभाग खाली हो गया था। शासन ने मुख्य सचिव के बाद शासन स्तर पर सबसे महत्वपूर्ण एपीसी के पद पर 1986 बैच के आईएएस अधिकारी आलोक सिन्हा को तैनात किया है। सिन्हा अपर मुख्य सचिव वाणिज्य कर व मनोरंजन कर की जिम्मेदारी अब अतिरिक्त रूप से देखेंगे। सिन्हा के पास आईटी एवं इलेक्ट्रानिक्स विभाग का भी प्रभार था। शासन ने अब आईटी एवं इलेक्ट्रानिक्स विभाग की जिम्मेदारी प्रमुख सचिव औद्योगिक विकास आलोक कुमार-प्रथम को अतिरिक्त रूप से सौंप दी है। पिछले काफी समय में तैनाती की प्रतीक्षा कर रही कल्पना अवस्थी को खेलकूद एवं ग्रामीण अभियंत्रण विभाग का प्रमुख सचिव बनाया गया है। इसी तरह मोनिका सहगल गर्ग को प्रमुख सचिव उच्च शिक्षा बनाया गया है। अपर मुख्य सचिव खेलकूद एवं ग्रामीण अभियंत्रण रहे मौ. इफ्तेखारुद्दीन को राज्य सड़क परिवहन निगम का चेयरमैन बनाया गया है। यह पद संजीव सरन के रिटायर होने के बाद से खाली था। प्रमुख सचिव परिवहन आरके सिंह यूपीएसआरटीसी के चेयरमैन के पद की अतिरिक्त जिम्मेदारी संभाल रहे थे। इस तबादले में वरिष्ठ आईएएस अधिकारी दीपक कुमार व मनोज कुमार सिंह को अच्छा महत्व मिला है। प्रमुख सचिव आवास एवं शहरी नियोजन दीपक कुमार को नगर विकास विभाग की अतिरिक्त जिम्मेदारी सौंप दी गई है। ये दोनों ही विभाग भारी भरकम बजट व केंद्र व राज्य सरकार की प्राथमिकता वाली कई योजनाओं व परियोजनाओं के लिहाज से बहुत महत्वपूर्ण माने जाते हैं। प्रमुख सचिव नगर विकास के पद पर कार्यरत मनोज कुमार सिंह को अब ग्राम्य विकास व पंचायतीराज जैसे दो महत्वपूर्ण विभागों की जिम्मेदारी दी गई है। पंचायतीराज विभाग की जिम्मेदारी पिछले दिनों सपा सरकार में प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री रहीं अनीता सिंह को सौंपी गई थी। आगामी पंचायत चुनाव के मद्देनजर पंचायतीराज विभाग में अनीता की तैनाती पर सत्ताधारी दल के भीतर सवाल उठाए जा रहे थे। अब पंचायत चुनाव मनोज सिंह कराएंगे। चुनाव की तैयारियां तेजी से चल रही हैं। हालांकि, अनीता का महत्व बरकरार है। उन्हें खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन विभाग के प्रमुख सचिव के साथ आयुक्त की भी जिम्मेदारी सौंप दी गई है।

Share it
Top