Top

बलिया काण्ड का मुख्य आरोपी धीरेन्द्र सिंह गिरफ्तार, विधायक सुरेंद्र सिंह लखनऊ तलब

बलिया काण्ड का मुख्य आरोपी धीरेन्द्र सिंह गिरफ्तार, विधायक सुरेंद्र सिंह लखनऊ तलब

बलिया, 18 अक्टूबर । बलिया गोलीकांड में फरार मुख्य आरोपित धीरेन्द्र प्रताप​ सिंह को यूपी एसटीएफ की टीम ने लखनऊ से गिरफ्तार किया है। वहीं, बलिया से और दो लोगों की गिरफ्तारी हुई है, जिन पर 50-50 हजार रुपये का इनाम घोषित था।

बलिया कांड के मुख्य आरोपित धीरेन्द्र प्रताप सिंह की तलाश में यूपी एसटीएफ की टीम लगी हुई थी। रविवार सुबह पता चला कि धीरेन्द्र जनेश्वर पार्क के पास मौजूद है। इस सूचना के बाद पार्क की एसटीएफ ने घेराबंदी करके बदमाश को पकड़ लिया है। धीरेन्द्र पर 50 हजार रुपये का इनाम घोषित था। वहीं, धीरेन्द्र के पकड़े जाने के बाद बलिया के वैशाली शहर से संतोष यादव और अमरजीत यादव की भी गिरफ्तारी हुई है। यूपी एसटीएफ की टीम अग्रिम कार्रवाई के लिए धीरेन्द्र को बलिया पुलिस के सुपुर्द करेगी।

भाजपा विधायक सुरेंद्र सिंह लखनऊ तलब

इस घटना को लेकर जिस तरह की बयानबाजी भाजपा विधायक सुरेन्द्र सिंह के द्वारा की गई है इसको लेकर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव ने विधायक को तलब किया है। सुरेन्द्र सिंह बैरिया से विधायक हैं।

निलंबित हुए थे अफसर

बलिया कांड की घटना को योगी आदित्यनाथ ने संज्ञान में लेकर कड़ा रुख अपनाते हुए एसडीएम व सीओ सहित थाना के आठ पुलिस कर्मियों को निलंबित कर दिया था। वहीं, इस घटना में फरार बदमाशों पर 50-50 हजार रुपये का इनाम घोषित किया था। इस मामले की जांच यूपी एसटीएफ की टीम कर रही थी।

आरोपितों पर लगेगी रासुका

इस घटना को गंभीरता से लेते हुए आजमगढ़ के डीआईजी सुभाष चन्द्र दुबे ने कहा था कि फरार आरोपितों पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून व गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई की जायेगी। किसी भी आरोपित को बख्शा नहीं जायेगा।

देश के एडीजी (कानून व्यवस्था) प्रशांत कुमार ने बताया कि बलिया कांड के मुख्य आरोपित को यूपी एसटीएफ की टीम ने पॉलीटेक्निक के पास से गिरफ्तार किया है।

उन्होंने बताया कि इस मामले में पुलिस महानिदेशक हितेश चन्द्र अवस्थी के निर्देश पर एसटीएफ की टीम जांच कर रही थी। पकड़ा गया अभियुक्त 50 हजार रुपये का इनामी है। इस मामले में आठ लोग नामजद थे। इस घटना से जुड़े सभी आरोपितों पर 50-50 हजार रुपये का इनाम घोषित था। मुख्य आरोपित धीरेन्द्र सहित कुल पांच अपराधी गिरफ्तार किए जा चुके हैं। अब मुख्य आरोपित को बलिया पुलिस के सुपुर्द किया जायेगा। साथ ही लखनऊ में ये कहाँ छिपा हुआ था। कौन लोग इसके मददगार रहे, तमाम ऐसे सवाल है, जिन्हें लेकर इससे अब पूछताछ होगी।

आरोपित को मिले फांसी की सजा

आरोपित धीरेन्द्र के पकड़े जाने के बाद पीड़ित परिवार ने अब पुलिस से यह गुहार लगाई है कि आरोपित को कड़ी से कड़ी सजा मिले। मृतक की पत्नी बोली कि जिसने मेरे पति की हत्या की है उसे फांसी की सजा मिले। परिवार के सुरक्षा, नौकरी दी जाये। 50 लाख रुपये का मुआवजा और बच्चों की पढ़ाई का खर्च सरकार उठाए ,यह सब मांगे परिवार की ओर से की गयी है। वहीं, आरोपित का परिवार मामले की सीबीआई जांच चाहता है। इसके साथ ही परिवार नार्को टेस्ट कराये जाने की मांग कर रहा है।


Share it