Top

सीएए का विरोध....अलीगढ़ में हालात बिगड़े, धार्मिक स्थल पर पथराव, एक व्यक्ति को लगी गोली, तनाव व्याप्त, इंटरनेट सेवाएं बंद

अलीगढ़। उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ शहर में रविवार को नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के विरोध में किए जा रहे प्रदर्शन के दौरान जुलूस की शक्ल में सैकड़ों लोग सड़कों पर उतर आये और कुछ युवकों ने तुर्कमान गेट पर स्थित नवदुर्गा पथवारी मंदिर पर पथराव कर दिया। इसी दौरान कुछ लोगों ने एक बाइक में आग लगा दी और जमकर ईंट पत्थर फेंके गए। इस घटना के बाद भीड बेकाबू हो गई और सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस पर भी भीड ने जमकर पथराव किया। बवाल में तारिक नाम के व्यक्ति को गोली लगी है, जिससे बाद से हालात बेहद तनावपूर्ण हो गए हैं। वहीं, सोशल मीडिया पर अफवाहों को रोकने के लिए रविवार आधी रात तक इंटरनेट को बंद कर दिया गया है। हालात पर काबू पाने के लिए पुलिस फोर्स दूसरे जनपदों से बुलाया गया है।

पुलिस सूत्रों के अनुसार आज शााहजमाल ईदगाह के सामने सीएए के विरोध में जारी प्रदर्शन में महिलाएं, बच्चे और पुरुष प्रदर्शन कर सरकार विरोधी नारेबाजी कर रहे थे। प्रदर्शन के चलते ऊपरकोट क्षेत्र के मुस्लिम इलाकों के सभी बाजार बंद रहे। इसके अलावा खैर बाईपास पर नादा पुल के पास भीम आर्मी द्वारा भारत बंद के आह्वान पर महिलाओं और पुरुषों के एक गुट ने जाम लगा दिया, जिसका असर मिलाजुला देखने को मिल रहा है। उन्होंने बताया कि सीएए और एनआरसी के विरोध प्रदर्शन के दौरान करीब दो बजे कुछ युवकों ने तुर्कमान गेट पर प्राचीन नवदुर्गा पथवारी मंदिर पर पथराव कर दिया। मंदिर पर पथराव के विरोध में बाल्मिकी बस्ती के लोग भी सड़क पर आ गये। दोनों पक्षों ने एक-दूसरे पर पथराव किया। इस दौरान हालात बेकाबू होते देख पुलिस ने भीड पर आंसू गैस के गोले छोडकर भीड को तितर-बितर करने का प्रयास किया। इस दौरान वहां मौजूद लोगों में भगदड़ मच गई। धरना दे रहीं महिलाएं भी भाग गईं। कुछ लोगों ने ज्वलंत चीजें फेंकी, जिससे दुकानों के आगे लगे पर्दों में आग लग गई। बाद में इसे बुझा दिया गया। बाद में मौके पर पहुंचे पुलिस एवं प्रशासन के अधिकारियों ने लोगों को समझा-बुझाकर मामला शांत कराया। उसके बाद तनाव को देखते हुए एहतियातन पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। अधिकारी स्थिति पर नजर रखे हुए हैं। बताया जाता है कि बाद में रविवार शाम अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय की कुछ छात्राएं धरना दे रही महिलाओं के बीच पहुंच गईं और महिलाओं को भड़का दिया, जिस पर महिलाओं ने पुलिस की गाड़ी पर पथराव शुरू कर दिया।

Share it