Top

बरसात ने फिर बढ़ाई सर्दी...मौसम खराब होने से सरसों और सब्जियों की फसलें बुरी तरह प्रभावित

बरसात ने फिर बढ़ाई सर्दी...मौसम खराब होने से सरसों और सब्जियों की फसलें बुरी तरह प्रभावित

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ समेत राज्य के कई हिस्सों में बरसात होने से सुबह से ही ठंडी हवा के चलते मौसम में सर्दी का असर बढ गया है।

लखनऊ में सवेरे ही तेज गडग़डाहाट एवं तेज हवा के साथ बरसात शुरू होने से ठंडक का प्रभाव बढ गया। सर्दी का प्रभाव दिन भर बना रहा तथा बादलों की आवाजाही बनी रही। मौसम विभाग के अनुसार समूचा पूर्वांचल बादलों की जद में आ गया और मुजफ्फरनगर, मेरठ, बागपत, बिजनौर, सहारनपुर, जौनपुर, मीरजापुर, सिद्धार्थनगर, शामली और वाराणसी सहित अन्य कई जिलों में हल्के से तेज बारिश भी दर्ज की गई। विभाग ने अगले एक-दो दिन में पूर्वांचल में बारिश होने की संभावना व्यक्त की हैं। सूत्रों के अनुसार बीते चौबीस घंटों में अधिकतम तापमान 29 डिग्री एवं न्यूनतम 10 डिग्री दर्ज किया गया। मौसम पूर्वांचल में बादलों का सघन डेरा बना हुआ है। ऐसे में पर्याप्त नमी वातावरण से मिली तो पूर्वांचल में बूंदाबांदी का दौर भी शुरू हो सकता है। सूत्रों के अनुसार इस बारिश से खेत में पानी की जरूरत कम होगी तथा सब्जियों और दलहन व तिलहन की फसल प्रभावित होगी। यह मौसम गेहूं की फसल के लिए वरदान साबित होगा। कारण कि कुछ दिन पहले ही तेज पछुआ हवा के चलने से मुसीबत बढ़ गई थी, लेकिन अब हवा में नमी एवं बादल के कारण स्थिति में सुधार हुआ है। शामली संवाददाता के अनुसार गुरुवार की रात से तेज बारिश होने से जहां आम जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया, वहीं बारिश से ठंड का प्रकोप एक बार फिर बढ गया है। शुक्रवार को भी पूरे दिन बारिश का दौर जारी रहने से लोग घरों में ही दुबके रहे। ठंड बढने से लोग गर्म कपडों में भी नजर आए। बारिश के कारण कई स्थानों पर जलभराव हो जाने से लोगों को दिक्कतों का सामना करना पडा। सिद्धार्थनगर से प्राप्त समाचार के अनुसार बरसात एवं ओलावृष्टि से गलन भरी ठंड का प्रकोप काफी बढ़ गया है। शुक्रवार को मौसम के अचानक करवट बदलते ही बूंदाबांदी और हल्की बारिश शुरू होने से गलन भरी ठंड ने फिर अपना असर दिखा दिया। सुबह से कई चक्रों में हुई बारिश और ओले पडऩे से लोग अपने घरों में दुबक गए। बारिश खेतों में खड़ी रवि की फसलों के लिए वरदान मानी जा रही है।

Share it