Top

शराबियों ने दरोगा और सिपाही को रस्सी से बांध कर जमकर पीटा...मरणासन्न हालत में पहुंचा दरोगा, सिपाही भी बुरी तरह जख्मी

शराबियों ने दरोगा और सिपाही को रस्सी से बांध कर जमकर पीटा...मरणासन्न हालत में पहुंचा दरोगा, सिपाही भी बुरी तरह जख्मी

जालौन। उत्तर प्रदेश में जालौन के एट थानान्तर्गत बिलायां गांव में शराब के नशे में इलाके के दंबंगों के दरोगा और सिपाही को रस्सियों से बांधकर जमकर पीटा तथा दरोगा के शरीर को अनेक जगहों से पेंचकस से भी रौंद डाला। दबंगों की पिटाई से दरोगा मरणासन्न हालत में पहुंच गया। पुलिस ने सात लोगों को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि गांव में दस कंपनी पीएसी और कई थानों की पुलिस भी तैनात कर दी गई है। पुलिस ने इस मामले में तीन महिलाओं और आठ लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया। पुलिस अधीक्षक डा. सतीश कुमार ने पत्रकारों को बताया कि एट थानान्र्तगत बिलाया गांव में कुछ शराबियों के द्वारा मचाये जा रहे उत्पात की सूचना मिलने पर मौके पर पहुंचे एट थाने के दरोगा और सिपाही को रस्सियों से बंधक बनाकर मारपीट के मामले में तीन महिलाओं सहित 11 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। गांव में शराब के नशे में दबंगों द्वारा किये जा रहे उत्पात को बंद कराने पहुंचे दरोगा और सिपाही के साथ शराबियों ने तो मारपीट की है, साथ ही वहां मौजूद महिलाओं ने भी अभद्रता की। थाना ऐट दरोगा रामसनेही वर्मा एवं हमराही सिपाही देवदत्त की शिकायत पर बाला प्रसाद पुत्र हल्कू, सोबरन पुत्र बाला प्रसाद, राजू पुत्र बाला प्रसाद, आनंद पुत्र बाला प्रसाद, संजय पुत्र बाला प्रसाद, दीपू पुत्र बाला प्रसाद, कल्लू पुत्र फूल सिंह, राघवेंद्र पुत्र फूल सिंह के साथ-साथ उषा देवी पत्नी संजय, जयमाला पत्नी दीपू और आशा पत्नी आनंद के खिलाफ नामजद तथा 15 अज्ञात लोगों के खिलाफ प्रार्थना पत्र दिया है। प्रार्थना पत्र के आधार पर पुलिस ने एक महिला सहित 7 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है तथा आरोपियों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 147, 148, 149, 332, 506, 307, 342 में अभियोग दर्ज किया है। पुलिस अधीक्षक जालौन डॉक्टर सतीश कुमार ने यह भी बताया कानून व्यवस्था खराब ना हो इसलिए गांव में भारी संख्या में पुलिस बल तैनात कर दिया गया है, साथ ही भागने में सफल रहे आरोपियों की तलाश भी तेज कर दी गई है शीघ्र ही अज्ञात सहित सभी नामजद आरोपी जेल भेजे जाएंगे।

Share it