Top

शिखर, विराट, राहुल के अर्धशतक, भारत ने किया हिसाब बराबर

शिखर, विराट, राहुल के अर्धशतक, भारत ने किया हिसाब बराबर

राजकोटओपनर शिखर धवन (96), कप्तान विराट कोहली (78) और लोकेश राहुल (80) के शानदार अर्धशतकों तथा मोहम्मद शमी के तीन विकेट और चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव के एक ओवर में दो झटकों से भारत ने आस्ट्रेलिया को दूसरे वनडे में शुक्रवार को 36 रन से पीटकर तीन मैचों की सीरीज में 1-1 से बराबरी कर ली। भारत ने 50 ओवर में छह विकेट पर 340 रन का विशाल स्कोर बनाया जिसके जवाब में ऑस्ट्रेलियाई टीम स्टीवन स्मिथ के 98 रन के बावजूद 49.1 ओवर में 304 रन बना सकी। मुंबई में पहला वनडे 10 विकेट से हारने वाली भारतीय टीम ने राजकोट में सौराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम में शानदार वापसी कर सीरीज में बराबरी की। सीरीज का फैसला अब बेंगलुरु में रविवार को होने वाले तीसरे और अंतिम मैच से होगा।

लक्ष्य का पीछा करते हुए ऑस्ट्रेलियाई टीम पहले मैच के अपने दोनों शतकधारी ओपनरों डेविड वार्नर और कप्तान आरोन फिंच को 82 रन तक गंवाने के बाद मुकाबले में नहीं लौट सकी। वार्नर 15 और फिंच 33 रन ही बना सके।

पूर्व कप्तान स्मिथ ने 102 गेंदों में नौ चौकों और एक छक्के की मदद से 98 रन बनाये लेकिन कुलदीप ने 38वें ओवर में स्मिथ को बोल्ड कर मैच भारत के पक्ष में मोड़ दिया। कुलदीप ने इस ओवर में दो विकेट लिए और वनडे में अपने 100 विकेट भी पूरे कर लिए।

शमी ने 44वें ओवर में एश्टन टर्नर और पैट कमिंस को लगातार गेंदों पर आउट किया। शमी ने इससे पहले वार्नर का बेशकीमती विकेट भी लिया था। लेफ्ट आर्म स्पिनर वीन्द्र जडेजा ने फिंच को राहुल के हाथों स्टंप कराया। मार्नस लाबुशेन ने 47 गेंदों पर 46 रन बनाये लेकिन जडेजा ने उनका शिकार कर डाला।

नवदीप सैनी ने 47वें ओवर में एश्टन एगर और मिशेल स्टार्क को निपटाया और भारत की जीत का मार्ग प्रशस्त किया। ऑस्ट्रेलिया के लिया यही सकारात्मक बात रही कि उसने 10वें नंबर के बल्लेबाज केन रिचर्डसन की 11 गेंदों में चार चौकों और एक छक्के से सजी नाबाद 24 रन की पारी से 300 रन पूरे कर डाले। जसप्रीत बुमराह ने आखिरी ओवर की पहली गेंद पर एडम जम्पा को राहुल के हाथों कैच कराकर ऑस्ट्रेलिया की पारी 304 रन पर समेट दी।

शमी ने 77 रन पर तीन विकेट, सैनी ने 62 रन पर दो विकेट, जडेजा ने 58 रन पर दो विकेट, कुलदीप ने 65 रन पर दो विकेट और बुमराह ने 32 रन पर एक विकेट लिया। भारत ने इस तरह राजकोट के इस स्टेडियम में तीन मैचों में अपनी पहली जीत दर्ज की।

इससे पहले भारत की पारी में शिखर मात्र चार रन से अपना 18वां वनडे शतक बनाने से चूक गये। लेकिन उन्होंने लगातार दूसरा अर्धशतक बनाया और 90 गेंदों पर 96 रन की पारी में 13 चौके और एक छक्का लगाया। कप्तान विराट ने अपने तीसरे नंबर पर लौटते हुये 76 गेंदों पर छह चौकों की मदद से 78 रन की शानदार पारी खेली।

ओपनिंग से इस मैच में पांचवें नंबर पर उतारे गये राहुल 52 गेंदों पर छह चौकों और तीन छक्कों की मदद से 80 रन बनाकर आखिरी ओवर में रनआउट हुये। ओपनर रोहित ने 44 गेंदों पर 42 रन में छह चौके लगाये। रवींद्र जडेजा 16 गेंदों में 20 रन बनाकर नाबाद रहे। श्रेयस अय्यर सात रन बनाकर आउट हुये। आस्ट्रेलिया की ओर से लेग स्पिनर एडम जम्पा ने 50 रन पर तीन विकेट और तेज़ गेंदबाज़ केन रिचर्डसन ने 73 रन पर दो विकेट लिये।

भारत ने मुंबई में पहले वनडे में 255 रन बनाये थे लेकिन राजकोट में उसने 340 रन का मजबूत स्कोर बनाया। भारत ने इस मुकाबले में टाॅस गंवाया और उसे बल्लेबाजी करने उतरना पड़ा। उपकप्तान रोहित और उनके जोड़ीदार शिखर ने भारत को 13.3 ओवर में 81 रन की ठोस शुरूआत दी।

रोहित हालांकि जम्पा की गेंद पर पगबाधा हो गये लेकिन उन्होंने 42 रन की पारी के दौरान एक ओपनर के तौर पर 7000 रन पूरे कर लिये और बतौर ओपनर वह सबसे तेज़ सात हजारी बन गये। हालांकि वह अपने 9000 वनडे रनाें से चार रन दूर रह गये। पिछले मैच में चौथे नंबर पर खेलने वाले विराट इस मुकाबले में तीसरे नंबर पर उतरे और उन्होंने शिखर के साथ दूसरे विकेट के लिये 103 रन की बड़ी साझेदारी की।

शिखर ने सीरीज़ में लगातार दूसरा अर्धशतक बनाया और जब वह अपने शतक से चार रन दूर थे तो केन रिचर्डसन की गेंद पर मिशेल स्टार्क को कैच दे बैठे। भारत का दूसरा विकेट 184 के स्कोर पर गिरा। श्रेयस अय्यर लगातार दूसरे मैच में सस्ते में आउट हुये। वह 17 गेंदों में सात रन ही बना सके। उन्हें जम्पा ने बोल्ड किया। भारत ने तीसरा विकेट 198 के स्कोर पर गंवाया। विराट ने अपने करियर का 56वां अर्धशतक पूरा किया और राहुल के साथ चौथे विकेट के लिये 78 रन की साझेदारी की। विराट एक बार फिर जम्पा का शिकार बने।

जम्पा ने मुंबई में विराट को अपनी गेंद पर कैच किया था और यहां विराट का कैच स्टार्क ने लपका। यह पांचवां मौका है जब जम्पा ने विराट को आउट किया है। ये सभी मौके भारतीय जमीन पर आये हैं। विराट का विकेट 276 के स्कोर पर गिरा। इसके चार रन बाद मनीष पांडे दो रन बनाकर रिचर्डसन का दूसरा शिकार बन गये।

राहुल ने इसके बाद ताबड़तोड़ बल्लेबाजी की और जडेजा के साथ छठे विकेट के लिये 58 रन की तेज़ तर्रार साझेदारी की। राहुल आखिरी ओवर में एलेक्स कैरी के थ्रो पर रनआउट हुये। उस समय भारत का स्कोर 338 रन पहुंच गया था। राहुल ने अपनी पारी के दौरान 1000 वनडे रन भी पूरे कर लिये।

50 ओवर में भारत का स्कोर 340 रन रहा। आस्ट्रेलिया के शीर्ष दो तेज़ गेंदबाज़ पैट कमिंस और मिशेल स्टार्क क्रमश: 53 और 78 रन देकर कोई विकेट नहीं ले सके। स्टार्क ने इस तरह अपने वनडे करियर में दूसरी सबसे महंगी गेंदबाजी की। एश्टन एगर को 8 ओवर में 63 रन पर कोई विकेट नहीं मिला।

Share it
Top