Top

नागरिकता कानून पर पहली बार बोले पीएम मोदी, पूरे देश में आगजनी कर रही कांग्रेस..कपड़ों से पता चलता है किसने आग लगाई

नागरिकता कानून पर पहली बार बोले पीएम मोदी, पूरे देश में आगजनी कर रही कांग्रेस..कपड़ों से पता चलता है किसने आग लगाई


-दुमका में भाजपा उम्मीदवारों के पक्ष में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने की विशाल चुनावी सभा

-जो काम पाकिस्‍तान के पैसे पर होता रहा, अब वह कांग्रेस कर रही है

-जहां-जहां आगजनी कराई गई, यह राजनीति से प्रेरित और प्रायोजित

-जेएमएम-कांग्रेस का बस एक काम, भाजपा का विरोध करो, मोदी को गाली दो

-बीजेपी का विरोध करते-करते इन लोगों को सीमारेखा लांघ देश का विरोध करने की आदत हो गई

दुमका/रांची। झारखंड के दुमका में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नागरिकता कानून के खिलाफ हो रहे प्रदर्शन पर पहली बार बयान दिया। उन्होंने कहा कि हमारी संसद ने नागरिकता से जुड़ा एक बदलाव किया ताकि पड़ोसी देश में रहने वाले हिंदुओं, सिख, ईसाई, पारसी, बौद्ध, जैन को नागरिकता मिल सके। इसके लिए भारत की दोनों सदनों ने बहुमत से बिल पास किया। अब कांग्रेस और उसके सहयोगी इसके खिलाफ आगजनी फैला रहे हैं। नागरिकता संशोधन कानून हजार फीसदी सही है। नागरिकता कानून के नाम पर कांग्रेस आगजनी कर रही है। पूरे देश में जहां-जहां आगजनी कराई जा रही है, यह राजनीति से पूरी तरह प्रेरित और प्रायोजित है। टीवी पर जो दृश्य आ रहे हैं, आग लगाने वाले कैसे कपड़े पहने हैं, क्‍या बातें कर रहे हैं, यह देखकर कोई भी पता कर सकता है कि आखिर ये कौन लोग हैं।

रविवार को पीएम मोदी दुमका के एयरपोर्ट मैदान में झारखंड सरकार की मंत्री डॉ. लुईस मरांडी सहित संथाल परगना के 16 भाजपा उम्मीदवारों के पक्ष में चुनावी सभा को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि समाचारों में देखा होगा कि संसद में नागरिकता कानून से जुड़ा बदलाव किया गया। इस बदलाव का कारण है कि पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान से जो परेशान थे, वो अलग धर्म का पालन करते थे इसलिए वहां उन पर जुल्म हुए। उनकी बहन-बेटियों की इज्जत बचानी मुश्किल हो गई। इन तीन देशों के हिंदू, ईसाई, बौद्ध, जैन, पारसी को यहां शरणार्थी का जीवन जीना पड़ा। इनके जीवन को सुधारने के लिए भारत के दोनों सदनों में भारी बहुमत से नागरिकता के निर्णय किया। इस पर कांग्रेस और उसके साथी हल्ला मचा रहे हैं। उनकी बात नहीं चलती तो ये आग लगा रहे हैं।

पीएम मोदी ने कहा कि हमारा विरोध करने वाले लोग समझो कि यह नागरिकता कानून किसके भले के लिए है। जो काम पाकिस्‍तान के पैसे पर होता रहा है, अब वह कांग्रेस कर रही है। इससे ज्‍यादा शर्म की बात क्‍या हो सकती है कि भारत का व्‍यक्ति लंदन में एम्बेसी के सामने प्रदर्शन कर रहा है। यह हिन्‍दुस्‍तान को बदनाम करने की साजिश है। ऐसे में अब लगता है कि हजारों फीसदी सही है, यह नागरिकता कानून कांग्रेस के कारनामे से सिद्ध हो रहा है।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि कांग्रेस अब देश का भलाई नहीं सोचती, वह अपनी राजनीति बचाने में जुटी है। कल्‍पना कीजिए कि बाबा तिलका मांझी, सिद्धो कान्‍हो, चांद भैरव सिर्फ अपनी भलाई सोचते तब क्‍या ये अंग्रेज हमारे देश से जाते। भाजपा ऐसी संस्‍कारों को धारण करती है। हम उन्‍हें सम्‍मान देते हैं। इन आदिवासी सेनानियों को अमर बनाने के लिए भाजपा सरकार लगातार नई योजनाएं बना रही हैं। देशभर में हम आदिवासी सेनानियों के नाम पर संग्रहालय बना रहे हैं। जनजातीय संस्‍कृति को संरक्षित करने के लिए हम संथाली भाषा को समृद्ध कर रहे हैं। इसपर शोध भी चल रहा है। खुशी हुई कि राज्‍यसभा में संथाली भाषा में भाषण हुआ। संताली भाषा को सम्‍मान देने के लिए उपराष्‍ट्रपति का अभिवादन करता हूं।

पीएम मोदी ने कहा कि यह जनसमर्थन बता रहा है कि झारखंड में भाजपा को भरपूर समर्थन मिल रहा है। यह हमारे सेवा भाव के कारण ही यह प्रेम अभिव्‍यक्‍त हो रहा है। मैं आपका सेवक बनकर काम करता हूं। आपके बीच आकर मैं अपने काम का हिसाब आपकी चरणों मे रखता हूं। मेरा जीवन बनाने में आदिवासियों का खास योगदान रहा है। आपकी और देश की सेवा के लिए हमें यह समर्पण ही उनसे अलग पहचान देती है।

कांग्रेस के पास झारखंड के विकास का रोडमैप नहीं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि जेएमएम और कांग्रेस के पास झारखंड के विकास का न कोई रोडमैप है, न राज्य में विकास करने का इनका कोई इरादा है और न ही इन्होंने कभी भूतकाल में कुछ किया है। अगर वो जानते हैं तो उनको एक ही बात का पता है, बस जहां मौका मिले बीजेपी का विरोध करो और मोदी को गाली दो। बीजेपी का विरोध करते-करते इन लोगों को देश का विरोध करने की आदत हो गई है। सीमा रेखा लांघ देते हैं।

जिन्‍हें आपने सिर-आंखों पर बिठाया, उन्होंने अपनी जेबें भरी

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि कांग्रेस और झामुमो ने झारखंड को पिछड़ेपन का प्रतीक बना रखा था, जिसे हम आज विकासशील की श्रेणी में पहुंचाए। जिन्‍हें आपने सिर-आंखों पर बिठाया, उन्‍होंने अपना तो भला कर लिया, अपनी जेबें भर ली, अपने परिवार को आबाद कर दिया लेकिन आप गरीब आदिवासियों की चिंता नहीं की। अब भी वे सुधरे नहीं हैं। आपने उन्‍हें सजा दी ले‍किन एकबार फिर वे आपको ठगने की कोशिश कर रहे हैं। वे अब भी अपनी तिजोरी भरने में लगे हैं। उन्होंने कहा कि 2014 के पहले झारखंड का शासन दिल्‍ली से चलता था, अब प्रधानमंत्री आवास योजना में लाभुक उसकी प्र‍कृति तय कर रहे हैं।

झारखंड में बीजेपी को भरपूर समर्थन मिल रहा है

रैली को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि झारखंड में बीजेपी को, कमल के फूल को आप सभी का भरपूर समर्थन मिल रहा है। शहीदों की धरती को, राष्ट्रभक्तों को, वीरों को जन्म देने वाली वीर माताओं की धरती को मैं नमन करता हूं। हम आपका सेवक बनकर काम करते हैं। मैं आपका सेवक बनकर आपका काम करता हूं, आपके बीच आता हूं और अपने काम का हिसाब भी जनता जनार्दन के चरणों में रखता हूं। एक कार्यकर्ता के रूप में आदिवासियों के बीच रहकर उनकी सेवा करने का मुझे लंबे समय का अनुभव रहा है और मेरे जीवन बनाने में वो अनुभव भी बहुत काम आता है, इसलिए मैं और मेरे साथी आपकी तकलीफों को भली भांति समझते हैं।

झारखंड में अध्‍यात्‍म और आस्‍था की बड़ी संभावनाएं

पीएम मोदी ने कहा कि झारखंड में अध्‍यात्‍म और आस्‍था की बड़ी संभावनाएं हैं। हम उन पर काम कर रहे हैं। राजनीतिक दलों की असंवदेनशीलता ने आपके और सरकार के बीच खाई बना दी थी, जिसे हम पाटने का काम कर रहे हैं। झारखंड के आदिवासी सा‍थियों ने शौचालय अभियान को पूरी शिद्दत से अपनाया। सरकार ने बस प्रोत्‍साहन दिया। बाकी काम रानी मिस्त्रियों ने किया। उज्‍जवला के तहत हमने आदिवासियों बहनों की जिंदगी आसान बनाई।

लोगों ने फ्लैश लाइट जलाकर किया अभिवादन

दुमका में कोहरे के कारण वहां विजीबिलिटी कम थी तो जनसभा में मौजूद लोगों ने अपने मोबाइल फोन का फ्लैश लाइट जलाकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का अभिवादन किया। मोदी ने अपना भाषण शुरू करते ही इसका जिक्र किया। उन्होंने कहा कि आपके मोबाइल की फ्लैश लाइट बता रही है कि कितनी दूर तक आप विराजमान हैं। अगर आप फ्लैश लाइट नहीं खोलते तो मुझे समझ में नहीं आता कि कहां तक आप लोग बैठे हैं। आज मौसम भी ज्यादा ठंढा है। दोपहर में ही शाम जैसा माहौल हो गया है। आपकी उर्जा बता रही है कि यह हमारे लिए सौभाग्य की बात है। बहन-बेटियों का यह उत्साह हमारी शक्ति है।

दुमका में भाजपा और झामुमो में है सीधा संघर्ष

दुमका विधानसभा सीट से इस बार पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन और समाज कल्याण मंत्री डॉ. लुईस मरांडी के बीच कांटे की टक्कर है। पिछले विधानसभा चुनाव 2014 में दुमका में भाजपा की डॉ. लुईस मरांडी ने झारखंड मुक्ति मोर्चा के कार्यकारी अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को 5,262 मतों से हराया था।

पांचवें चरण में इन 16 सीटों पर होना है मतदान

पांचवें चरण में जिन 16 विधानसभा क्षेत्रों में मतदान होना है उनमें राजमहल, बोरियो, बरहेट, लिट्टीपाड़ा, पाकुड़, महेशपुर, शिकारीपाड़ा, नाला, जामताड़ा, दुमका, जामा, जरमुंडी, सारठ, पोड़ैयाहाट, गोड्डा और महगामा सीट शामिल हैं।


Share it
Top