Top

निर्भयाकांड के अपराधियों को फांसी देने के लिए बक्सर में बनने लगी है रस्सी !

निर्भयाकांड के अपराधियों को फांसी देने के लिए बक्सर में बनने लगी है रस्सी !


बक्सर। स्थानीय केंद्रीय कारा में फांसी देने वाली रस्सी का विशेष तौर के पंजाब में पैदा किये गये कपास के धागों से तैयार किया जा रहा है। कयास लगाया जा रहा कि दिल्ली की निर्भया के कातिलोंं को फांसी देने के लिये ही रस्सी तैयार की जा रही है।

केंद्रीय कारा के वरीय आधिकारिक सूत्रों के अनुसार गृह मंत्रालय के आदेश के बाद ही बक्सर की केंद्रीय कारा में फांसी देने वाली रस्सी का निर्माण कराया जा रहा है। इस रस्सी को कारा के कैदी ही बनाते हैं।

दिसम्बर 2012 में देश को हिला देने वाले निर्भयाकांड के चार आरोपितों मुकेश, पवन शर्मा, अक्षय ठाकुर और विनय को सुप्रीम कोर्ट ने फ़ांंसी की सजा सुनाई है। उनकी दया याचिका राष्ट्रपति के पास भेजते हुये केंद्र सरकार ने आरोपितों की याचिका खारिज करने की भी मांग भी की है। राष्ट्रपति यदि उनकी खारिज कर देते हैं तो दरिंदो को फ़ांंसी देने का रास्ता साफ़ हो जाएगा।

उल्लेखनीय है कि भारत की किसी भी जेल में अगर किसी दोषी अपराधी को फांसी देने के लिये प्रयोग की जाने वाले रस्सी का निर्माण बक्सर केन्द्रीय कारा के सिद्धहस्त कैदी ही बनाते हैं। वर्षों से चली आ रही इस परंपरा का निर्वहन आज भी बक्सर कारा में हो रहा है। पूर्व में फिलीपीन्स की राजधानी मनीला से आयातित विशेष कपास से इन फंदों का निर्माण किया जाता था। लेकिन अब पंजाब में विशेष पद्धति से उगाये जा रहे पी-34 कपास से इन फ़ांंसी के रस्सी का निर्माण कार्य किया जा रहा है। यहां की रस्सी से ही बने फांसी के फंदे से आतंकी अफजल गुरु को फांसी दी गयी थी।


Share it
Top