Top

स्मृति ईरानी के साथ अभद्रता के मुद्दे पर लोकसभा की कार्यवाही दिन भर के लिए स्थगित

स्मृति ईरानी के साथ अभद्रता के मुद्दे पर लोकसभा की कार्यवाही दिन भर के लिए स्थगित



नयी दिल्ली- महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी के साथ लोकसभा में शून्यकाल के दौरान कांग्रेस के दो सदस्यों की कथित अभद्रता को लेकर कई सदस्यों ने उन पर कड़ी कार्रवाई की माँग की तथा उनके माफी माँगने के लिए निर्धारित समय तक नहीं आने के कारण सदन की कार्यवाही दिन भर के लिए स्थगित कर दी गयी।

इसी मुद्दे पर दो बार के स्थगन के बाद सदन की कार्यवाही दोपहर बाद 2.30 बजे जैसे ही शुरू हुई संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी ने आरोप लगाया कि श्रीमती ईरानी के साथ अभद्रता करने वाले कांग्रेस के टी.एन. प्रतापन और डीन कोरयाकोस जानबूझ कर सदन में नहीं आये हैं। उन्होंने कहा "सुबह जो घटना हुई उसे लेकर सभी सदस्य और विशेषकर महिला सदस्यों में आक्रोश है। कांग्रेस दोनों सदस्यों को सदन में बुलाया जाना चाहिये या उन्हें निलंबित करना चाहिये।"

इसके बाद भारतीय जनता पार्टी, बीजू जनता दल और आम आदमी पार्टी के कई सदस्यों ने एक-एक कर अपनी राय रखी तथा श्री प्रतापन और श्री कोरियाकोस के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की माँग करते हुये कहा कि सिर्फ माफी माँगना ही पर्याप्त नहीं है। उन पर ऐसी कार्रवाई होनी चाहिये जिससे यह संदेश जाये कि यह सदन महिलाओं का सम्मान करता है उनके प्रति अभद्रता बर्दाश्त नहीं की जायेगी।

सदन में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी जब अपनी बात रखने के लिए खड़े हुये तो सत्ता पक्ष के सदस्य अपने-अपने स्थानों पर खड़े होकर जोर-जोर से यह कहने लगे कि कांग्रेस ने श्रीमती ईरानी के साथ अभद्रता करने वाले सदस्यों को जानबूझकर भगा दिया है। पीठासीन सभापति रिपीट सभापति मीनाक्षी लेखी ने यह कहते हुये श्री चौधरी को बोलने का मौका नहीं दिया कि पार्टी के दोनों सदस्यों को सदन में बुलाने के लिए उन्हें एक घंटे का समय दिया गया था। यदि वे आज चले गये हैं तो वे सोमवार को आकर माफी माँग सकते हैं। इसके बाद उन्होंने सदन की कार्यवाही दिन भर के लिए स्थगित कर दी।


Share it
Top