Top

लखनऊ: अदालत परिसर में बमों के हमलों से मची अफरा-तफरी, कई घायल,तीन जिंदा बम बरामद

लखनऊ: अदालत परिसर में बमों के हमलों से मची अफरा-तफरी, कई घायल,तीन जिंदा बम बरामद

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के वजीरगंज क्षेत्र में गुरुवार को अदालत परिसर में कुछ लोगों ने एक वकील को निशाना बनाकर बम फेंके और उसके विस्फोट में कई लोगों के घायल होने की सूचना है। पुलिस ने मौके से तीन जिंदा बम बरामद किए हैं। इस वारदात के बाद अदालत परिसर में अफरा-तफरी मच गई तथा वकीलों ने जमकर नारेबाजी की तथा हंगामा भी किया। इस सम्बन्ध में दोनों पक्षों ने एक-दूसरे पर आरोप लगाते हुए मामले दर्ज कराये हैं और पुलिस सीसीटी फुटेज के आधार पर अरोपियों के खिलाफ कार्रवाई करेगी। लखनऊ के संयुक्त पुलिस आयुक्त नवीन अरोड़ा ने आज रात यहां बताया कि यहां बार संघ के संयुक्त सचिव संजीव लोधी को निशाना बनाकर कुछ लोगों ने बम से हमला कर दिया था। बम फटने से दो तीन लोगों को मामूली चोट आई है। उन्होंने बताया कि इस मामले में श्री लोधी की तहरीर पर वजीरगंज थाने में बार संघ के महामंत्री जीतू यादव आदि पर बम से हमला करने का आरोप लगाते हुए सुधीर यादव, दीलीप सिंह, जीतू यादव, अन्नू यादव समेत सात लोगों को नामजद करते हुए कुछ अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कराया गया है। उन्होंने बताया कि इसी क्रम में दूसरे पक्ष जीतू यादव ने कैसरबाग कोतवाली में कुछ अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कराया है। उन्होंने बताया कि कचहरी परिसर का वकीलों के चैम्बर का हिस्सा कैसरबाग इलाके में पड़ता है। उन्होंने बताया कि बम हमले की घटना में पांच लोगों ने अपना मेडिकल कराया है। उन्होंने बताया कि श्री लोधी और जीतू यादव ने एक दूसरे पर आरोप लगाये हैं। पुलिस दोनों मामलों की निष्पक्षता से जांच कर रही है और साथ ही वहां लगे सीसीटीवी फुटेज देखी जा रही हैं। इस घटना के बाद अदालत में सुरक्षा बढ़ा दी गई है। इस बीच संजीव लोधी ने अपनी शिकायत में लिखा है कि गुरुवार लगभग 11 बजकर 5० मिनट पर मैं अपने चेंबर सिविल कोर्ट के बाहर खड़ा था। इसी दौरान सुधीर यादव, आजम, एजाज, दिलीप सिंह समेत तकरीबन दस लोगों ने मेरी हत्या के इरादे से मुझ पर हमला किया। उन्होंने तहरीर में इस बात का भी जिक्र किया,'इन लोगों द्वारा किए गए हमले में एक बम फट गया और अन्य बम पुलिस ने बरामद किए हैं। मुझपर जानलेवा हमले के पीछे जीतू यादव (महामंत्री, लखनऊ बार), अन्नू यादव, अजय यादव हैं, क्योंकि कल रात से ये लोग मुझे जान से मारने की धमकी दे रहे थे। आज न्यायालय परिसर में जीतू यादव की सरपरस्ती में बम, तमंचे लेकर न्यायालय में हमला किया गया। इस हमले में कई अन्य साथी वकीलों को भी चोटें आई हैं। दूसरी ओर बम हमले के आरोपी जीतू यादव ने कहा कि उन पर लगे आरोप निराधार हैं। जीतू यादव ने कहा कि घटना के बाद उनके साथ कुछ वकीलों ने मारपीट की। उन्होंने इस बाबत कैसरबाग कोतवाली में अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है। गौरतलब है कि कचहरी में बार संघ चुनाव भी होना है। पुलिस वकीलों के आपसी विवाद के कारण इस हमले को देख रही है। संजीव लोधी ने जीतू यादव और उसके साथियों पर बम से हमला कराने का आरोप लगाया है। मौके पर तीन जिंदा बम भी मिले थे। इस घटना में एक व्यक्ति को ज्यादा चोट लगी है जबकि बाकी दो को मामूली चोटें है। बताया गया कि वकीलों के दो गुट में विवाद था जिसकी शिकायत बुधवार को एक ग्रुप के वकील ने बार काउंसिल में की थी, जिसकी वजह से विवाद बढ़ा था।

Share it