Top

इंडिया-वेस्टइंडीज मैच-कोहली की विराट पारी से भारत की रिकॉर्ड जीत

इंडिया-वेस्टइंडीज मैच-कोहली की विराट पारी से भारत की रिकॉर्ड जीत


हैदराबाद, 06 दिसम्बर - कप्तान विराट कोहली की नाबाद 94 रन की सर्वश्रेष्ठ पारी और ओपनर लोकेश राहुल (62) के बेहतरीन अर्धशतक तथा दोनों के बीच दूसरे विकेट के लिए 100 रन की साझेदारी की बदौलत भारत ने वेस्ट इंडीज को पहले टी-20 मुकाबले में शुक्रवार को छह विकेट से हराकर लक्ष्य का पीछा करते हुए अपनी सबसे बड़ी जीत दर्ज कर ली। भारत ने इस जीत के साथ तीन मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली।

भारतीय जीत के हीरो कप्तान विराट रहे जिन्होंने मात्र 50 गेंदों में छह चौकों और छह छक्कों की मदद से नाबाद 94 रन की अपनी सर्वश्रेष्ठ और मैच विजयी पारी खेली जिसके लिए उन्हें मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार मिला। वेस्ट इंडीज ने शिमरॉन हेत्माएर (56) के बेहतरीन अर्धशतक और ओपनर एविन लुइस की 40 और कप्तान कीरोन पोलार्ड की 37 रन की आतिशी पारियों से 20 ओवर में पांच विकेट पर 207 रन का मजबूत स्कोर बनाया लेकिन भारत ने अपने कप्तान की विराट पारी से 18.4 ओवर में चार विकेट पर 209 रन बनाकर आठ गेंद पहले ही मैच समाप्त कर दिया।

भारत की लक्ष्य का पीछा करते हुए यह सबसे बड़ी जीत है। भारत ने 2009 में मोहाली में श्रीलंका के खिलाफ 2007 रन के लक्ष्य का सफलतापूर्वक पीछा किया था और इस बार उसने 2008 रन का लक्ष्य हासिल कर लिया।

भारत ने मजबूत लक्ष्य का पीछा करते हुए ओपनर और उपकप्तान रोहित शर्मा को 30 के स्कोर पर गंवाया। रोहित 10 गेंदों में आठ रन ही बना सके। रोहित को लेफ्ट आर्म स्पिनर खैरी पिएरे ने आउट किया लेकिन इसके बाद राहुल और विराट ने दूसरे विकेट के लिए 100 रन की शानदार साझेदारी की। दोनों भारतीय बल्लेबाजों ने सहजता के साथ बल्लेबाजी की और मैदान के चारों तरफ शॉट खेले।

इस साझेदारी के दौरान राहुल ज्यादा आक्रामक रहे जबकि दूसरे छोर पर विराट ने उनका टिक साथ देना ही बेहतर समझा। राहुल ने 40 गेंदों पर पांच चौकों और चार छक्कों की मदद से 62 रन की शानदार पारी खेली। राहुल का टी-20 में यह सातवां अर्धशतक था और इसके साथ ही उन्होंने अपने 32वें टी-20 में 1000 रन पूरे करने की उपलब्धि हासिल कर ली। राहुल को पिएरे ने कप्तान कीरोन पोलार्ड के हाथों कैच कराया।

राहुल के आउट होने के वाद विराट ने मोर्चा संभाला और रन गति की तेजी को बनाये रखा। विराट ने अपना 23वां टी-20 अर्धशतक पूरा किया और सर्वाधिक टी-20 अर्धशतक बनाने के मामले में रोहित 22 से आगे निकल गए। मैदान पर उतरे विकेटकीपर ऋषभ पंत ने अपनी पहली ही गेंद पर छक्का मारा। पंत का दूसरा स्कोरिंग शॉट भी छक्का ही था। लेकिन पंत अपनी पारी को लम्बा नहीं खींच पाए और नौ गेंदों पर 18 रन बनाकर शेल्डन कॉट्रेल का शिकार बन गए।

भारत ने तीसरा विकेट 178 के स्कोर पर गंवाया। पंत का इस तरह आउट होने उनके खिलाफ चल रही आलोचनाओं को बल देगा कि वह जमने के बाद अपना विकेट गंवा देते हैं। पंत का कैच जैसन होल्डर ने लपका। पंत का विकेट गिराने के बाद श्रेयस अय्यर मैदान पर उतरे। उस समय भारत को जीत के लिए 30 रन की जरूरत थी।

विराट क्रीज पर जमे थे इसलिए भारतीय खेमा पूरी तरह निश्चिन्त था कि चिंता करने जैसी कोई बात नहीं है। विराट ने 18वें ओवर में पोलार्ड की दूसरी गेंद पर छक्का मारा लेकिन पोलार्ड ने इस ओवर की आखिरी गेंद पर अय्यर को आउट कर मैच का रोमांच बढ़ा दिया। भारत को आखिरी दो ओवर में 15 रन की जरूरत थी।

विराट ने 19वें ओवर में केसरिक विलियम्स की दूसरी और चौथी गेंद पर छक्का मारकर मैच समाप्त कर दिया और साथ ही 90 रन के अपने सर्वश्रेष्ठ स्कोर को पीछे छोड़ दिया जो उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाड़ एडिलेड में 2016 में बनाया था।

भारत की टी-20 में वेस्ट इंडीज के खिलाफ यह लगातार सातवीं जीत है। विलियम्स ने इस मैच में 3.4 ओवर में 60 रन लुटाये और टी-20 में विंडीज के सबसे महंगे गेंदबाज बन गए।

इससे पहले भारतीय कप्तान विराट कोहली ने टॉस जीतकर पहले क्षेत्ररक्षण करने का फैसला किया लेकिन अनुभवी लेंडल सिमंस (2) को जल्दी आउट करने के बाद भारतीय गेंदबाजों के लिए कुछ भी अच्छा नहीं रहा। विश्व चैंपियन कैरेबियाई बल्लेबाजों ने बिना किसी दबाव के बल्लेबाजी की और अपनी टीम को विशाल स्कोर तक पहुंचा दिया। लेकिन विंडीज के गेंदबाज इस स्कोर का बचाव नहीं कर पाए।

हेत्माएर ने 41 गेंदों पर 56 रन की पारी में दो चौके और चार छक्के लगाए। लुइस ने मात्र 17 गेंदों में तीन चौकों और चार छक्कों की मदद से 40 रन ठोक डाले। पोलार्ड ने 19 गेंदों पर 37 रन में एक चौका और चार छक्के उड़ाए। ब्रेंडन किंग ने 23 गेंदों पर 31 रन में तीन चौके और एक छक्का मारा।

आलराउंडर जैसन होल्डर ने नौ गेंदों पर नाबाद 24 रन में एक चौका और दो छक्के लगाए। दिनेश रामदीन 11 रन पर नाबाद रहे। कैरिबियाई बल्लेबाजों ने मैच में 11 चौके लगाने के अलावा 15 छक्के मारे। वेस्ट इंडीज ने इस तरह भारतीय जमीन पर भारत के खिलाफ दूसरा सर्वाधिक स्कोर बना डाला। वेस्ट इंडीज के बल्लेबाजों ने इस मैच में कुल 15 छक्के मारे जो एक मैच में भारत के खिलाफ तीसरे सर्वाधिक छक्के हैं।

भारत के लिए तेज गेंदबाज दीपक चाहर ने चार ओवर में 56 रन लुटाकर एक विकेट लिया। चाहर ने टी-20 में भारत की तरफ से तीसरी सबसे महंगी गेंदबाजी की। वाशिंगटन सुंदर को 34 रन पर एक विकेट, रवींद्र जडेजा को 30 रन पर एक विकेट और लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल को 36 रन पर दो विकेट मिले।

Share it
Top