Top

ऐसे रहें तनावमुक्त

ऐसे रहें तनावमुक्त

जब स्थितियां व्यक्ति के नियंत्रण से बाहर होती हैं तो व्यक्ति तनाव की स्थिति में आ जाता है। तनाव व्यक्ति के शारीरिक व मानसिक स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव डालता है इसलिए तनाव का चाहे कोई भी कारण हो, व्यक्ति को उसके प्रभाव को कम करने का प्रयास करना चाहिए। ऐसा कोई भी व्यक्ति नहीं है जिसके जीवन में कभी भी कोई तनावपूर्ण स्थिति न आयी हो, इसलिए तनावपूर्ण स्थितियों का सामना करने के लिए व्यक्ति को तैयार रहना चाहिए। अगर आपके सामने भी कोई तनावपूर्ण समस्या हो या आप चाहते हैं कि ऐसी स्थिति का सामना कम से कम करना पड़े तो ध्यान रखें:-

- तनाव के स्तर को कम करने के लिए अपने समय को व्यवस्थित करें। कोई भी कार्य करने से पूर्व योजना बनाएं। अपने आप पर कार्य का अधिक भार मत लें और आराम के लिए समय अवश्य रखें। जिस समस्या के कारण आप तनावग्रस्त हैं, उससे निपटने के लिए ठंडे दिमाग से सोचें और उसका हल निकालें।

- तनावपूर्ण स्थिति से अकेले निपटने से अच्छा है कि आप कोई ऐसा साथी चुनें जो इस तनावपूर्ण स्थिति में आपके लिए मददगार साबित हो। उसके सामने स्थिति स्पष्ट कीजिए। हो सकता है वह आपको तनाव से बाहर लाने में सफल हो।

- भविष्य में क्या होने वाला है इसके बारे में अधिक चिंता न करें क्योंकि हमारे हाथ में हमारा वर्तमान होता है। भविष्य हमारे नियंत्रण से बाहर होता है, इसलिए भविष्य के बारे में सोच-सोचकर तनावग्रस्त न रहें।

- व्यक्ति तब भी तनाव महसूस करता है जब वह अपने आपको काम में इस कदर डुबा देता है कि उसकी जि़ंदगी रूटीन लाइफ बन कर रह जाती है, इसलिए व्यक्ति को अपनी सोशल लाइफ की तरफ भी ध्यान देना चाहिए। अपने परिवार के साथ वक्त बिताकर या अपने मित्रों रिश्तेदारों से मिलकर व्यक्ति अच्छा महसूस करता है।

- काम के साथ बीच-बीच में आराम करें। लगातार काम न करें। परिवार, मित्रों के साथ छुट्टी मनाने बाहर जाएं।

- नियमित व्यायाम करें क्योंकि नियमित व्यायाम तनाव कम करता है, आपको अच्छी नींद दिलाने में मदद करता है और आपको चिंताओं से दूर रखता है।

- अगर आपको ऐसा महसूस हो कि तनाव आपके जीवन में इस कदर बढ़ता जा रहा है कि अब उस स्थिति को सहना असहनीय हो गया है या उसके कारण आपको डिप्रेशन या अन्य स्वास्थ्यगत समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है तो डॉक्टर के पास जाने में हिचकिचाएं नहीं। डॉक्टर से कुछ भी छुपाएं मत।

- रात को सोते समय मन को व्यवस्थित रखें और कम से कम सोचें। सोते समय अपने सभी तनावों, चिंताओं को दूर रखें।

- सोनी मल्होत्रा

Share it
Top