Top

दैनिक राशिफल......31 मार्च, मंगलवार 2020

दैनिक राशिफल......31 मार्च, मंगलवार 2020

चैत्र 11 शक संवत 1942 चैत्र शुक्ल 7 विक्रमी संवत 2077 सौर मास चैत्र की 18 प्रविष्टे। शाबान (मुस्लिम) महीने की 6 तारीख हिजरी साल 1441 तदनुसार 31 मार्च, मंगलवार 2020, उत्तरायण, उत्तर गोल बसंत ऋतु।

सप्तमी अर्धरात्रयोत्तर 3.49 तक परम अष्टमी तिथि। मृगशिरा नक्षत्र सायं 6.43 तक तदुपरान्त आद्र्रा नक्षत्र का आरम्भ। सौभाग्य योग सायं 5.52 तक तदनंतर शोभन योग का प्रारम्भ। गर करण अपरान्ह 3.31 तक पश्चात वणिज करण चन्द्रमा दिन-रात मिथुन राशि में संचार करेगा। सूर्योदय 6.13 तथा सूर्यास्त 18.34 पर होगा। भद्रा अर्धरात्रयोत्तर 3.49 बाद। राहूकाल 15.00 से 16.30 तक।

मेष: आज का दिन आपके लिए चुनौतीपूर्ण रह सकता है। स्वराशि राशि का चंद्रमा आपके सामने ढेर सारी जिम्मेदारियां खड़ी करेगा। मंगल क्रियाशील और पुरूषार्थी ग्रह है इसलिए सुव्यवस्था करने में आपका कोई सानी नहीं है। सभी की उम्मीदों पर खरा उतरने की आपकी विशेषता आज भी आपको यश देगी।

वृषभ: राशि का स्वामी वृष राशि का होने से जन्मस्थल हो गया है। राजनितिक प्रतिद्वन्दी आज आपसे आगे निकलने का प्रयास करेंगे। धीरे-धीरे सफलता की ओर कदम बढ़ाये जा सकते हैं। लेकिन कोई नया कार्य शुरू करने के लिए समय अनुकूल नहीं है।

मिथुन: आज का दिन आपके लिए सामान्य है। राशि का स्वामी बुध एकादश आय प्रमुख त्रिकोण में सूर्य के साथ बैठकर बौद्धिक तथा व्यवसायिक क्षेत्र में सफलता कारक है। संतान पक्ष की ओर से हर्ष दायक समाचार से मनोबल बढ़ सकता है। भाग्योदय का दिन है, सचेत रहने की आवश्यकता है।

कर्क: आज शुभ कार्यों में आपकी दिलचस्पी बढ़ सकती है। आप द्वारा लिया गया निर्णय आगे लाभप्रद रहेगा। संतान पक्ष के विवाह में आ रही अड़चने समाप्त होने की संभावना है। राशि का स्वामी चंद्रमा मेष राशि में गत होने से जाति व श्रेणी में हीन कोई व्यक्ति आपके लिए समस्या उत्पन्न कर सकता है।

सिंह: आज आपका भाग्य हर काम में आपका साथ देगा। विरोधियों का षडय़ंत्र असफल रहेगा। सांसारिक सुख भोग के साधनों पर शुभ व्यय होने से मन में हर्ष होगा। बहुत समय से चली आ रही कटुता आपसी समझौते से समाप्त हो जाएगी। नया परिचय मित्रता में परिवर्तन हो सकता है। जन संपर्क में वृद्धि होने के आसार हैं।

कन्या: राशि का स्वामी बुध व सूर्य दोनों आज षष्ठ सप्त भाव में संचार कर रहे हैं। फलस्वरूप वृद्धजनों की सेवा तथा पुण्य कार्यों पर धन व्यय होने से मन में हर्ष रहेगा। प्रतिद्वंद्वियों के लिए आप सिरदर्द बने रह सकते हैं। दांपत्य जीवन में सुखद स्थिति रहने की संभावना है।

तुला: आपकी राशि का स्वामी शुक्र अष्टम भाव में और आज चंद्रमा भी वृष का राशि के साथ ही है। अत्यधिक श्रम करने पर भी आय कम और व्यय अधिक होगा। गुप्त शत्रु सक्रिय रहेंगे, व्यर्थ की भागदौड़ पारिवारिक अशांति विशेष रूप से रहेगी। सूर्यास्त होते समय कुछ राहत मिल जाएगी।

वृश्चिक: आपकी राशि से तृतीय त्रिग्रही योग शनि से आज का दिन चुनौतीपूर्ण रहेगा। कोई महत्वपूर्ण व्यवसायिक अनुबंध आपके पक्ष में फाईनल हो सकता है। यदि आप अपनी बात दूसरों तक पहुंचाने में कामयाब हो जाए तो आने वाले दिनों में आपसे वरिष्ठ व्यक्ति भी आपकी प्रशंसा करेंगे।

धनु: राशि का स्वामी बृहस्पति धनु में है। चंद्रमा आज वृष राशि अष्टम केन्द्र में संचार कर रहा है। राज्य कार्यों में सफलता, घर में धन धान्य की वृद्धि, कलत्र मित्रों से धन का लाभ, निरोगता, शत्रुओं पर विजय और मनोर्थ सिद्धि होगी। रात्रि में शुभव्यय-मंगलमय समारोह में सम्मिलित होने का अवसर प्राप्त होगा।

मकर: राशि का स्वामी शनि यद्यपि प्रथम भाव में मार्गी है किन्तु चंद्रमा जो दैनिक जीवन का बीज है, पंचम भाव में राज्य विजय कारक है। आज सत्पुरूषों के मिलने से मन में प्रसन्नता होगी। उच्चाधिकारियों की कृपा से भूमि-जायदाद सम्बन्धी विवाद का समाधान भी हो जाएगा।

कुंभ: राशि का स्वामी शनि द्वादश व्यय भाव में स्वतन्त्र रूप से संचार कर रहा है। कर्म फल की सिद्धि कारक है। कहीं से कमा कमाया धन मिलने का योग है। किसी वृद्ध महिला का आशीर्वाद मिलने से उन्नति के विशेष अवसर प्राप्त होंगे।

मीन: आपकी राशि का स्वामी देव गुरू बृहस्पति राशि से दशम भाव में धनु: राशि का होकर विद्यमान है। चंद्रमा भी द्वितीय कोष भवन में चल रहा है। फलस्वरूप आज पूरे दिन आय के नए स्रोत सामने आ सकते हैं।

प्रणपाल सिंह राणा

गांधी कालोनी, मुजफ्फरनगर

Share it