Top

दैनिक राशिफल......26 मार्च, गुरूवार 2020

दैनिक राशिफल......26 मार्च, गुरूवार 2020

चैत्र 6 शक संवत 1942 चैत्र शुक्ल 2 विक्रमी संवत 2077 सौर मास चैत्र की 13 प्रविष्टे। शाबान (मुस्लिम) महीने की 1 तारीख हिजरी साल 1441 तदनुसार 26 मार्च, गुरूवार 2020, उत्तरायण, उत्तर गोल बसंत ऋतु।

द्वितीया सायं 7.54 तक परम तृतीया तिथि। रेवती नक्षत्र प्रात: 7.15 तक तदुपरान्त अश्वनि नक्षत्र का आरम्भ। ऐन्द्र योग सायं 4.28 तक तदनंतर वैधृति योग का प्रारम्भ। बालव करण प्रात: 6.40 तक पश्चात कौलव करण। चन्द्रमा प्रात: 7.15 से मेष राशि में संचार करेगा। इसी के साथ पंचक समाप्त। सूर्योदय 6.20 तथा सूर्यास्त 18.34 पर होगा। गंडमूल जारी है। राहूकाल 13.30 से 15.00 तक।

मेष: आपकी राशि का स्वामी मंगल मकर राशि का होकर दशम कार्य केंद्र में है, आज का दिन कोई विशेष व्यवस्था करने में बीतेगा। आपका भौतिक और सांसारिक दृष्टिकोण आज के दिन कुछ बदल सकता है। सावधानीपूर्वक ही काम करने की चेष्टा करें, जिससे आपका आत्म सम्मान बढ़े।

वृषभ: आपकी राशि का स्वामी शुक्र द्वादश भाव में संचार कर रहा है। शुक्र संपूर्ण शुभ दृष्टि से तृतीय पराक्रम भाव को देख रहा है। राज्य-मान प्रतिष्ठा तथा उत्तम प्रकार की धन संपत्ति दायक है। आज चंद्रमा भी दशम भाव में सुख शांति कारक है। व्यवसाय के क्षेत्र में नए सहयोगी मिलेंगे।

मिथुन: आपकी राशि का स्वामी बुध नवम त्रिकोण भाव मे विराजमान कुंभ राशि में है। फलत: आज का दिन भागदौड़ और विशेष चिंता में व्यतीत होगा। पत्नी के स्वास्थ्य को लेकर सावधान रहें। अतिथि और मेहमान भी कुछ लंबा पड़ाव डाल सकते हैं।

कर्क: राशि चंद्रमा की राशि है। आज राशि से नवम चंद्रमा उत्तम संपत्ति की प्राप्ति की ओर संकेत कर रहा है, जिसमें कुछ खर्चा भी संभव है। संत्तान पक्ष से हर्षवर्धक समाचार व परिवार में आमोद-प्रमोद का वातावरण रहेगा। बहुत समय से रुके हुए किसी कार्य को बनाने की चेष्टा करें।

सिंह: राशि का स्वामी सूर्य मंगल के साथ होकर अष्टम आयु भाव में भाग्य वृद्धि में सहायक सिद्ध हो रहा है। बुध के सप्तम भाव में होने से व्यावसायिक स्थान परिवर्तन आपके लिए अच्छा मोड़ सिद्ध होगा। व्यापार में निकटवर्ती सहयोगी के प्रति सच्ची निष्ठा और सुमधुर वाणी रखने से आप लोगों का दिल जीत सकते हैं।

कन्या: आज आपके पास अनेक प्रकार के लोग आश्रय लेने आएंगे, गतंभरा प्रज्ञा से काम लेते हुए सबका सम्मान करें। यही लोग आगे चलकर आपके काम आएंगे। नौकरी या कार्य व्यवसाय के क्षेत्र में चुप रहना ही आज लाभकारक रह सकता है। बहस व टकराव से बचें। माता-पिता का विशेष ध्यान रखें।

तुला: आपकी राशि का स्वामी शुक्र राशि से सप्तम भाव में कोष वृद्धि व मन संतोषकारक है। आज का दिन आनन्द में बीतेगा। मीन का चंद्रमा षष्ठ चंद्र श्री कुर्यात' के अनुसार श्री एवं सौंदर्य में वृद्धि कर सकता है। किसी निकट मित्र की सलाह व सहयोग से आप अपने बिगड़े काम ठीक कर सकते हैं, समय का लाभ उठाएं।

वृश्चिक: राशि का स्वामी मंगल उच्च राशि पराक्रम भाव में चंद्रमा पंचम घर में विजय विभूति कारक है। आज का दिन कामकाज को सुधारने में विशेष योगदान दे रहा है। किसी विशेषज्ञ की सलाह आपके लिए आगे चलकर उपयोगी सिद्ध होगी।

धनु: आपकी राशि का स्वामी देवगुरू बृहस्पति पिछले कईं दिनों से धनु राशि में चल रहा है, चंद्रमा भी आज चतुर्थ भाव में अकस्मात बड़ी मात्रा में धन की प्राप्ति करा कर कोष वृद्धि कर सकता है। आप अपने बलबूते पर ही अपनी समस्याओं का समाधान निकालने का प्रयास करें, इससे कोई स्थाई सफलता मिल जाएगी।

मकर: आपकी राशि का स्वामी शनि राशि से प्रथम घर में और चंद्रमा तृतीय भाव में कुछ अधिक व्यस्तता का संकेत दे रहे हैं। व्यापार व्यवसाय की तरफ ध्यान देना आपकी प्राथमिकता होनी चाहिए। आज दोपहर तक आप अपना बिखरा हुआ कारोबार सही तरीके से समेट लें, हो सकता है आगे समय न मिले।

कुंभ: आज आपकी राशि से एकादश में गुरु व केतु का योग और मीन राशि में चंद्रमा भाग्य वृद्धि करेगा। शत्रु चिंता का दमन, प्रबल से प्रबल विरोधियों के होने पर भी अंत में सर्वत्र विजय विभूति सफलता की प्राप्ति हर्ष मंगलमय परिवर्तन होंगे।

मीन: आपकी राशि का स्वामी बृहस्पति धनु: राशि का होकर दशम भाग्य त्रिकोण संतान भाव में चल रहा है। मनोर्थ सिद्धि कारक है। घरेलू स्तर पर भी मांगलिक कार्यों का आयोजन हो सकता है। निकट की यात्रा हो सकती है।

प्रणपाल सिंह राणा

गांधी कालोनी, मुजफ्फरनगर

Share it