Top

फिटनेस: नियमित व्यायाम, स्वास्थ्य की शान

फिटनेस: नियमित व्यायाम, स्वास्थ्य की शान

आज हर इन्सान भागदौड़ भरी जिन्दगी जी रहा है। यदि मनुष्य इस भागदौड़ भरी जिन्दगी में से कुछ समय नियमित व्यायाम के लिये निकाल ले तो वह अपने शरीर में निखार व आकर्षण पैदा कर सकता है। बहुत कम ही ऐसे लोग होंगे जो स्वस्थ रहते हुये भी अपने स्वास्थ्य के प्रति काफी सजग रहते हैं तथा नियमित व्यायाम के जरिये दीर्घकाल तक चुस्त व दुरूस्त रहते हैं।

मोटापा अनेक बीमारियों को निमंत्रण देता है। आज अधिकांश स्त्री व पुरूष अपने शरीर पर उसी समय ध्यान देते हैं, जब उन्हें यह महसूस होने लगता है कि उनका वजन बहुत अधिक हो गया है और शरीर पर कुछ घातक रोगों ने दस्तक दे दी है। ऐेसे समय में यदि कोई व्यायाम करने का सुझाव देता है तो यही सुनने को मिलता है कि इसको करने से यहां दर्द होता है, वहां दर्द देता है, अर्थात् न वे व्यायाम करने की नियमितता बनाते हैं और न करते हैं। उन्हें चिकित्सकों द्वारा औषधियां लेना अधिक सरल लगता है।

नियमित व्यायाम न करने से शरीर में बहुत कुछ हानियां हो जाती हैं जैसे

- वजन बढ़ जाना

- मानसिक तनाव

- हृदय रोग

- उच्च रक्तचाप

- मधुमेह

आइए देखें कि मनुष्य का वजन बढ़ता क्यों है?

मनुष्य के शरीर की त्वचा कई परतों से बनी है। जब आप नियमित व्यायाम नहीं करते तो त्वचा की एक-एक परत पर मैल जमने लग जाती है। गन्दगी अर्थात् मैल जमने से त्वचा की एक-एक परत मोटी होने लगती है, जो नहीं होनी चाहिए। इस प्रकार मनुष्य का वजन जरूरत से ज्यादा बढ़ जाता है और फिर शरीर पर कई रोगों का आक्र मण होना तय हो जाता है।

नियमित व्यायाम करने से त्वचा पर जमी मैल की परतें आपस में खिंचाव व रगड़ खाने से पसीने के रूप में त्वचा से बाहर निकलती रहती हैं और वजन को बढऩे से रोकती हैं। आज पूरे विश्व में अधिकांश लोग मोटापे तथा स्वास्थ्य समस्याओं से घिरे हैं।

यदि शरीर स्वस्थ है तो जिन्दगी जीने का मजा ही अलग है। रोगों से भरी काया जीवन को रसहीन व उदासीन बनाती है। स्वस्थ मानव शरीर इंसान की सबसे बड़ी पूंजी है। अत: प्रत्येक व्यक्ति को दिन भर के समय में से एक घंटा व्यायाम के लिये अवश्य निकाल कर शरीर के प्रति जागरूक होना चाहिए।

आज कमसिन लड़कियों से लेकर वृद्ध महिलाएं भी सुंदर दिखना चाहती हैं लेकिन यह तभी संभव हो सकता है जब आप नियमित एक घंटा व्यायाम करती हों तथा अपने वजन व सेहत का पूरा ध्यान रखती हों। व्यायाम के साथ-साथ सेहत के बारे में भी ध्यान देना अति आवश्यक है क्योंकि मोटापा और सेहत दोनों ही हमारे खान-पान पर निर्भर हैं।

जब कोई व्यक्ति अपने जीवन में व्यायाम को महत्त्व नहीं देता तो वह स्वस्थ शरीर के रहस्य को नहीं समझ सकेगा। नियमित व्यायाम के साथ-साथ आप मौसमी फल व सब्जी अवश्य खाइये जिसमें आपको लौह तत्व व विटामिन भरपूर मात्रा में मिलें। व्यायाम के साथ-साथ आप अपने खान-पान पर पूरा ध्यान रखें ताकि आप स्वस्थ दिखें।

जब आप नियमित व्यायाम शुरू करें तो अपने खाने की एक सूची बनाएं जिसमें तला भोजन, चटपटा व मसालेदार, भोजन छोड़कर प्रोटीनयुक्त (दालें, चना, सोयाबीन) लौह तत्व में (हरी सब्जियां व फल) विटामिन व दूध आदि नियमित हों। इस तरह से व्यायाम के साथ-साथ पौष्टिकता से भरपूर भोजन लेने से आपका शरीर स्वस्थ, सुंदर व आकर्षक लगने लगेगा।

नियमित व्यायाम व खान-पान पर ध्यान देने से कई रोगों के साथ-साथ बुढ़ापे से बचे रहेंगे तथा लम्बी आयु प्राप्त कर सकते हैं।

नियमित व्यायाम के कुछ लाभ:-

- नियमित व्यायाम हमें घातक रोगों से बचाता है।

- यह शरीर में जल्दी झुर्रियां नहीं पडऩे देता।

- शरीर सदैव चुस्त एवं दुरूस्त बना रहता है।

- तनाव व चिंता से मुक्त रखता है।

- इससे शरीर आकर्षक व सुन्दर बनता है।

- चिकित्सकों की फीस व औषधियां खरीदने में जो पैसे बर्बाद होते हैं वे नहीं होते।

-पूनम तिवारी

Share it