Top

यूपी में महिलाओं का सम्मान बढे, ये मुख्यमंत्री की प्राथमिकता- अजीत पाल , सरकार की उपलब्धियों की दी जानकारी

शामली: मिशन शक्ति नारी सशक्तिकरण नारी सम्मान महिलाओं तथा बच्चों के विरुद्ध हिंसा से रोकथाम हेतु अभियान हिंसा छिपाए नहीं हमें बताएं कार्यक्रम के शुभ अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में जनपद के प्रभारी मंत्री अजीत सिंह पाल ने मां सरस्वती के समक्ष दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया।आयोजित कार्यक्रम में उपस्थित नारी शक्ति को संबोधित करते प्रभारी मंत्री ने कहा कि नवरात्रि के पावन अवसर के दिन प्रदेश के मुख्यमंत्री द्वारा महिलाओं के सम्मान, सुरक्षा एवं महिलाओं को स्वावलंबन बनाने के लिए जो इस महत्वपूर्ण कार्यक्रम की शुरुआत की गई है उसके लिए मैं मुख्यमंत्री को धन्यवाद ज्ञापित करता हूं।

प्रभारी मंत्री ने उपस्थित नारी शक्ति को संबोधित करते हुए कहा कि महिलाओं के सम्मान में सरकार प्रथम स्थान पर है, उन्होंने कहा कि नारी शक्ति घरेलू कार्यों के साथ-साथ शिक्षा के क्षेत्र में आगे बढ़कर अच्छे पद को हासिल करते हुए अपने देश का और प्रदेश का नाम रोशन करे जिससे आगे बढ़ा जा सकता है।प्रभारी मंत्री ने कहा कि घर में बहनों का प्यार भाइयों का प्यार हमेशा बना रहे। कार्यक्रम में प्रभारी मंत्री द्वारा संबंधित विभाग की योजनाओं पर प्रकाश डाला गया जिसमें महिला कल्याण विभाग द्वारा संचालित निराश्रित महिला पेंशन योजनान्तर्गत वित्तीय वर्ष 2020-21 में 11585 लाभार्थियों को प्रथम किस्त एवं अनुदान के रूप में कुल धनराशि 295.87 लाख एंव 12514 लाभार्थियों को द्वितीय किस्त के रूप में कुल धनराशि 199.71 लाख प्रदान की गयी है।मुख्यमंत्री कन्या सुंमगला योजनान्तर्गत वित्तीय वर्ष 2019-21 में वर्तमान तक 3599 लाभार्थियों को कुल 63.78 लाख की धनराशि उनके खाते अन्तरित की गयी है। वित्तीय वर्ष 2020-21 में 04 लाभार्थियों को लाभान्वित किया गया है। महिला एवं बाल विकास मन्ंत्रालय द्वारा संचालित सखी वन स्टॉप सेंन्टर जनपद शामली में दिनांक 11 दिसम्बर, 2019 से कार्य कर रहा है। जिसमें पीडित महिलाओं को एक ही छत के नीचे पुलिस कानूनी सहायता, काउन्सलिग सहायता, मेडिकल सहायता,अल्पावास की सुविधा प्रदान की जा रही है। वन स्टॉप सेन्टर में अब तक 176 केस पीडित महिलाओं द्वारा दर्ज कराये जा चुके है, जिनमें घरेलू हिंसा, छेड-छाड, दहेज प्रथा आदि के केस सामिल है। 176 केसो में केन्द्र के द्वारा 116 केसों का निस्तारण किया जा चुका है। मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजनान्तर्गत वित्तीय वर्ष 2019-20 में 575 लाभार्थियों को 304.71 लाख की धनराशि से लाभान्वित किया जा चुका है।

इस अवसर पर सांसद कैराना प्रदीप चौधरी ने नारी शक्ति के प्रति अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि केंद्र सरकार व प्रदेश सरकार महिलाओं को आगे बढ़ाने का काम कर रही है। नारी शक्ति हर क्षेत्र में अपनी प्रतिभा दिखा रही है। सांसद ने कहा कि केंद्र सरकार व प्रदेश सरकार द्वारा महिलाओं के प्रति चलाए जा रहे कार्यक्रम बहुत ही कारगर साबित होंगे।

कार्यक्रम में सदर विधायक तेजेंद्र निर्वाल ने उपस्थित नारी शक्ति को संबोधित करते हुए कहा कि प्रदेश सरकार महिलाओं को सम्मान सुरक्षा एवं स्वावलंबी बनाने का काम कर रही है। कार्यक्रम में महिला आयोग की सदस्य डॉ प्रियवदा ने नारी शक्ति के प्रति अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि पिछले साढे 3 साल में प्रदेश सरकार ने एक संरक्षक की तरह महिलाओं को सम्मान सुरक्षा एवं स्वावलंबन एवं योजनाओं से लाभान्वित किए जाने का काम किया है।उन्होंने नारी शक्ति से कहा कि महिलाओ को अनेकों चुनौतियों का सामना करना पड़ता है।उन्होंने नारी शक्ति को आत्मनिर्भर बनते हुए हर समय सजग रहने की बात कही।

कार्यक्रम के अंत में जिला प्रोबेशन अधिकारी द्वारा कार्यक्रम के तहत होने वाली विभिन्न गतिविधियों के संबंध में विस्तार से जानकारी देते हुए बताया कि उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा महिला एंव बालिकाओं की सुरक्षा, सम्मान एंव स्वावलम्बन के सन्दर्भ मे एक योजना बनायी गयी है ।इस अवसर पर प्रभारी जिलाधिकारी/अपर जिलाधिकारी अरविंद कुमार सिंह, पुलिस अधीक्षक नित्यानंद राय, मुख्य विकास अधिकारी शंभू नाथ तिवारी, सीएमओ शामली, जिला प्रोबेशन अधिकारी प्रसून राय,सहित आदि अधिकारी एवं नारी शक्ति के रूप में समूह की महिलाएं एवं आंगनबाड़ी कार्यकर्ती आदि उपस्थित रही। इसके उपरांत प्रभारी मंत्री ने मुख्य विकास भवन परिसर से मिशन शक्ति नारी सशक्तिकरण सम्मान महिलाओं तथा बच्चों के विरुद्ध हिंसा से रोकथाम अभियान प्रचार प्रसार वाहन को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।

Share it