Top

मुज़फ्फरनगर में नहीं खुलेंगी मिठाई, राखी या कोई भी दुकान, रहेगा 55 घंटे का लॉक डाउन

मुज़फ्फरनगर में नहीं खुलेंगी मिठाई, राखी या कोई भी  दुकान, रहेगा 55 घंटे का लॉक डाउन

मुज़फ्फरनगर - ज़िले में बकरीद और रक्षा बंधन के कारण शनिवार या रविवार को कोई दुकान नहीं खुलेगी, शुक्रवार की रात 10 बजे से पूर्ण लॉक डाउन जारी हो जायेगा।

इस बार बकरीद और रक्षा बंधन के कारण आज सुबह से ही ये चर्चा गर्म थी कि इस बार ज़िले में लॉक डाउन में कुछ छूट मिलेगी, लेकिन जिला प्रशासन ने इससे इंकार किया है दरअसल नॉएडा, गाजियाबाद और वाराणसी समेत कुछ ज़िलों में दो दिन छूट देने की घोषणा की गयी है।

वाराणसी के जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने कल आदेश जारी करके बताया था कि 01 से 03 अगस्त के मध्य बकरीद तथा रक्षा-बंधन त्योहार को दृष्टिगत साप्ताहिक बन्दी एक अगस्त (शनिवार) व दो अगस्त (रविवार) को मिठाई, बेकरी, पशु विक्रय व राखी विक्रय की दुकानों को प्रातः 09.00 बजे से सायंकाल 05.00 बजे तक खोले जाने की अनुमति प्रदान कर दी गयी है।

इसी तरह गौत्तम बुद्ध नगर के जिला अधिकारी सुहास एलवाई और गाज़ियाबाद के जिलाधिकारी अजय शंकर पांडे ने भी आदेश जारी किये है कि रक्षाबंधन त्यौहार को दृष्टिगत रखते हुए आगामी रविवार को गौतमबुद्ध नगर और गाज़ियाबाद के अंतर्गत कंटेनमेंट जोन के बाहर सभी मिठाइयां एवं राखी की दुकानें खुली रहेंगी। प्रशासन ने जिला वासियों से आह्वान किया कि सभी नागरिक कोरोना से अपने को सुरक्षित रखने के लिए दुकानों से मिठाईयां एवं राखी खरीद करते समय मास्क एवं सोशल डिस्टेंसिंग का पालन अवश्य करें ताकि सभी नागरिक कोरोना वायरस के संक्रमण से सुरक्षित बने रहें।

इन आदेशों के बाद ज़िले में भी ये चर्चा थी कि यहाँ भी ऐसी छूट दी जा रही है , अपर जिलाधिकारी वित्त आलोक कुमार ने बताया कि ज़िले में ऐसा कोई आदेश जारी नहीं किया गया है,ज़िले में आज रात से सोमवार सुबह तक पूर्ण लॉक डाउन जारी रहेगा।

एसएसपी अभिषेक यादव ने भी बताया कि साप्ताहिक लॉक डाउन का सख्ती से पालन कराया जाएगा जिसके विषय में पुलिस वाहनों से सूचना प्रसारित की जा रही है, लोगो से घरों में ही रहने की अपील की जा रही है।

Share it