Top

मशाल जुलूस निकाल कर दिया ज्ञापन....मांगें नहीं माने जाने पर राकसंप उप्र ने दी 21 जनवरी को आंदोलन की चेतावनी

मशाल जुलूस निकाल कर दिया ज्ञापन....मांगें नहीं माने जाने पर राकसंप उप्र ने दी 21 जनवरी को आंदोलन की चेतावनी

मुजफ्फरनगर। आज राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद उप्र के आह्वान पर परिषद शाखा मुजफ्फरनगर के द्वारा एक तय कार्यक्रम के चलते मशाल जुलूस निकाला गया। जो कि जिला चिकित्सालय मुजफ्फरनगर परिसर से प्रारंभ होकर नावल्टी चौक, शिवचौक होकर जिलाधिकारी कार्यालय पर शांतिपूर्वक सम्पन्न हुआ। जिसमें जिलाधिकारी को मुख्यमंत्री के नाम पुरानी पेंशन बहाली, कर्मचारियों की वेतन विसंगति दूर करने, सभी संविदा कर्मचारियों को नियमित कर समायोजित करने, पद अनुरूप वेतनमान दिये जाने, निजीकरण, ठेकेदारी व्यवस्था एवं संविदा व्यवस्था पूर्णतया समाप्त करने, 8, 16 व 24 साल की सेवा पर पदोन्नति वेमनमान अनुमान करने, परिवहन विभाग के कर्मचारियों की लंबित मांगों का समाधान करने एवं अन्य मांगों के समर्थन में एक ज्ञापन दिया गया। मशाल जुलूस का संचालन संजीव कुमार लांबा जिलाध्यक्ष एवं अनुज त्यागी मंत्री राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के द्वारा किया गया। इस मशाल जुलूस में जनपद के समस्त घटक दलों उत्तर प्रदेश परिवहन विभाग, चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग, रा.स्व.मि. संविदा कर्मचारी संघ, वाणिज्य कर, वन विभाग, गन्ना पर्यवेक्षक संघ, सिंचाई नलकूप खंड, सम्भागीय परिवहन विभाग, विकास भवन, आउटसोर्सिंग कर्मचारी संघ, आयुर्वेद एवं यूनानी चिकित्सा संघ, सिंचाई संघ, लेखपाल संघ ने सफल भागेदारी की। जिलाध्यक्ष संजीव कुमार लांबा ने कहा कि यदि सरकारी द्वारा हमारी मांगों को अब भी नहीं माना गया, तो कर्मचारी सड़कों पर उतरने को विवश होंगे। 21 जनवरी 2020 को मंडलीय धरना मांगों के समर्थन में दिया जाएगा। मशाल जुलूस में मुख्य रूप से केसी राय, सुधीर कुमार, अमरीश त्यागी, नवनीत कुमार, सुधीर चौधरी, सुनील कुमार, मदनपाल, मनोज त्यागी, गुलबीर सिंह, भोला प्रसाद, श्यामपाल यादव, आशुतोष, मौ. जुनैद, अमित सक्सेना, शिव कुमार शर्मा, मनोज कुमार गौतम, सुशील गौतम, रविंद्र शर्मा, नरेंद्र कुमार पहलवान अरविंद बालियान, श्रीमती विमला राठी, श्रीमती संगीता, सिस्टर मिली, मौ. याकूब, मौ. शरीफ, अनिल वर्मा, जयभगवान, राहुल चौधरी, पवन गिरी, शौराज सिंह, हसरत राणा, मणिकांत त्यागी, डा. सचिन जैन, श्रीमती शकुंतला सिंघल, ब्रजेश सिंह, दिलावर सिंह, शारदा लाल मिश्रा व ब्रजवीर सिंह सहित सभी विभागों के कर्मचारियों के द्वारा भागीदारी की गयी।

Share it