Top

मुज़फ्फरनगर में एक उद्यमी समेत परिजन भी हुए संक्रमित, आज भी 11 मिले पॉजिटिव, दरोगा भी चपेट में आये

मुजफ्फरनगर। जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग के प्रयासों के बावजूद भी जिले में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या लगातार बढती जा रही है। आज भी 11 कोरोना पॉजिटिव मिलने से हडकम्प मच गया। आज मिले कोरोना संक्रमित मरीजों में एक मीरापुर थाने का दरोगा भी शामिल है, इसके अलावा जाट कालोनी, गांधीनगर समेत आबकारी मौहल्ले में भी एक संक्रमित शामिल है। आज 9 पुराने मरीज ठीक भी हुए है, जिन्हें डिस्चार्ज कर दिया गया है। अब जिले में 205 एक्टिव केस हो गये है।

अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व आलोक कुमार ने जानकारी देते हुए बताया कि आज कुल 104 सैंपल की जांच रिपोर्ट प्राप्त हुई है, जिसमें एक कोरोना पॉजिटिव मिला है, इसके अलावा रेपिड एंटीजन टैस्ट में आठ कोरोना पॉजिटिव पाये गये है, जबकि दो की जांच मेरठ की एक प्राईवेट लैब में हुई है और उनका उपचार भी मेरठ मैडिकल में ही चल रहा है। उन्होंने बताया कि आज मिले कोरोना संक्रमित मरीजों में एक बुढाना क्षेत्र के गांव कुरालसी का निवासी है, जबकि एक रोहाना के निकटवर्ती गांव बडकली का निवासी है। इसके अलावा तीन कोरोना संक्रमित विश्वकर्मा चौक के निकट मौहल्ला गांधीनगर के निवासी है, जबकि एक कोरोना संक्रमित गांधीनगर में धर्मकांटे के पास रहने वाला व्यक्ति शामिल है। इसी प्रकार एक कोरोना संक्रमित आबकारी मौहल्ले में भी मिला है, जबकि एक जाट कालोनी का निवासी भी कोरोना संक्रमित पाया गया है, इसके अलावा मुजफ्फरनगर के मौहल्ला राघव विहार के भी दो लोग कोरोना संक्रमित पाये गये है।

मोरना क्षेत्र के गांव खेड़ी फिऱोज़ाबाद निवासी 32 वर्षीय व्यक्ति का जाँच सेम्पल मोरना के प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पर जाँच टीम द्वारा लिया गया था। शनिवार को व्यक्ति की रिपोर्ट पॉजि़टिव आई है। प्रभारी चिकित्साधिकारी डॉ. अर्जुन सिंह ने बताया कि व्यक्ति को आइसोलेट सेन्टर पर ले जाकर आइसोलेट किया जाएगा तथा सम्पर्क हिस्ट्री पताकर सम्पर्क में आये व्यक्तियों की जाँच की जायेगी। शनिवार को 77 व्यक्तियों की जाँच सेम्पल भेजे गये हैं। इसी प्रकार मीरापुर थाने से इंस्पेक्टर की ट्रेनिंग पर गए एक एसआई की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई। तबियत बिगडऩे के बाद एसआई उपचार के लिए मेरठ के एक अस्पताल में भर्ती हो गए है। एसआई के पॉजिटिव निकलने से थाने में हड़कम्प मच गया है। मीरांपुर थाने में तैनात एक एसआई कुछ दिन पूर्व सीतापुर में इंस्पेक्टर की ट्रेनिंग के लिए गए थे, जहां पूरे प्रदेश से करीब 150 सब इंस्पेक्टर ट्रेनिंग पर आए हुए थे, जिनमें से ज्यादातर की तबियत बिगडऩे के बाद उनकी कोरोना जाँच कराई गई, जिनमें से करीब 98 सब इंस्पेक्टर कोरोना पॉजिटिव निकले, जिसके बाद ट्रेनिंग सेन्टर में हड़कम्प मच गया था। मीरांपुर थाने के उक्त एसआई भी ट्रेनिंग से मेरठ अपने घर लौट आए। यहां आने पर उनकी तबियत भी बिगड़ गई, जिसके बाद उन्होंने मेरठ के एक प्राइवेट अस्पताल में उपचार लेना शुरू किया, जहां चिकित्सकों ने एसआई का कोरोना टेस्ट कराया, तो दो दिन पूर्व हुए कोरोना टेस्ट में मीरापुर थाने के उक्त एसआई कोरोना पॉजिटिव निकले, जिसके बाद एसआई उपचार के लिए उक्त प्राइवेट अस्पताल में भर्ती हो गए। वहीं मीरापुर थाने के एसआई के कोरोना पॉजिटिव निकलने से थाने में हड़कम्प मच गया।

मुज़फ्फरनगर में एक बड़े लोहा उद्यमी और उनके परिजन भी कोरोना की चपेट में आ गए है ,पारिवारिक सूत्रों के अनुसार राणा ग्रुप के एक बड़े उद्यमी और उनके बेटे व बहु भी कोरोना की चपेट में आ गए है, जो दिल्ली में अपोलो अस्पताल में अपना ईलाज करा रहे है |

Share it