Top

दुर्घटना में चार युवकों की मौत...अज्ञात वाहन ने बाईक सवारों को बुरी तरह रौंदा, गुस्साये लोगों किया रास्ता जाम

दुर्घटना में चार युवकों की मौत...अज्ञात वाहन ने बाईक सवारों को बुरी तरह रौंदा, गुस्साये लोगों किया रास्ता जाम

मुजफ्फरनगर। चरथावल थाना क्षेत्र में आज एक अज्ञात वाहन द्वारा मोटरसाईकिल सवारों को रोंदने से मौके पर ही तीन लोगों की दर्दनाक मौत हो गई, जबकि एक गम्भीर रूप से घायल हो गया। घायल को त्वरित इलाज न मिलने व अज्ञात वाहन चालक को पकड न पाने के कारण आक्रोशित लोगों ने शवों को सडक पर रखकर जाम लगा दिया, जिससे पुलिस में अफरा-तफरी मच गई और आला अफसरों ने लोगों को समझा बुझाकर बामुश्किल जाम खुलवाया। बाद में घायल की भी उपचार के दौरा दुखद मौत हो गई। दूसरी ओर दुर्घटना में मारे गये लोगों के परिजनों में बुरी तरह कोहराम मचा हुआ है।
जानकारी के अनुसार चरथावल थाना क्षेत्र के गांव अमीगढ निवासी नीटू के यहां बागड का कार्यक्रम था, जिसमें पुरकाजी थाना क्षेत्र के गांव धमात निवासी 18 वर्षीय राहुल पुत्र राजकुमार, 16 वर्षीय काला पुत्र सुदेश व 35 वर्षीय मिन्टू पुत्र ओमा भी शामिल होने आये थे। आज सुबह ये तीनों रवि पुत्र ओमपाल के साथ एक ही बाईक पर सवार होकर चरथावल किसी काम से जा रहे थे। जब ये अमीगढ पुलिया के नजदीक पहुंचे तो पीछे से आ रहे एक अज्ञात वाहन ने इन्हें बुरी तरह कुचल दिया, जिससे राहुल, काला व रवि की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई, जबकि मिन्टू बुरी तरह घायल हो गया। राहगीरों ने उक्त दुर्घटना की जानकारी तत्काल पुलिस को दी, जिससे चरथावल पुलिस तुरंत दुर्घटनास्थल पर पहुंची और घायल को आनन-फानन में पुलिस जीप द्वारा ही सीएचसी पहुंचाया गया, परन्तु सीएचसी पर मौजूद चिकित्सकों ने घायल मिन्टू को भर्ती करने से मना करते हुए रैफर करने की बात कही, परन्तु सूचना के बाद घंटों इंतजार करने के बाद भी 1०8 एम्बूलैंस मौके पर नहीं पहुंची, जिससे परिजनों व मौजूद ग्रामीणों का गुस्सा भडक गया और उन्होंने हंगामा करना शुरू कर दिया। हंगामा बढता देख घायल को प्राईवेट गाडी द्वारा निजी अस्पताल पहुंचाया गया, जहां उपचार के दौरान उसकी भी मौत हो गई।
प्रभावी चिकित्सा सुविधा उपलब्ध न होने व अज्ञात वाहन चालक के पकडे न जाने के कारण ग्रामीणों में आक्रोश भडक गया और उन्होंने शवों को अस्पताल से लाकर घटनास्थल पर जाम लगा दिया। जाम की सूचना पर एसडीएम व सीओ सदर समेत छपार, तितावी व कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंची और शवों को कब्जे में लेने व जाम खुलवाने का प्रयास किया, परन्तु ग्रामीणों ने उनकी एक नहीं चलने दी और अज्ञात वाहन चालक को तुरंत गिरफ्तार करने की मांग करने लगे। दुर्घटना की सूचना पर मौके पर पहुंचे पुरकाजी विधायक प्रमोद ऊंटवाल व पूर्व विधायक अनिल कुमार समेत क्षेत्र के काफी गणमान्य लोगों ने भीड को समझा बुझाकर घंटों की मशक्कत के बाद बामुश्किल जाम खुलवाया। पुलिस ने दुर्घटना के लिये जिम्मेदार वाहन को कब्जे में ले लिया है, जो किसी पब्लिक स्कूल का बताया जा रहा है।

Share it