Top

चिल्लागाह से सेवादारों ने निकाला सामान, ट्रकों से भेजा गया बरेली, रिपोर्ट दर्ज होने के बाद दामाद और पत्नी हुए फरार

मोरना। भोपा थाना क्षेत्र के गांव बिहारगढ़ में वन विभाग की करीब 100 बीघा भूमि पर बने पीर खुशहाल के चिल्लागाह के आवासीय क्षेत्र को प्रशासन ने तोड़कर अपने कब्जे में कर लिया है। पीर खुशहाल के आवासीय भवन को भी तेजी से खाली कराया जा रहा है। सेवकों ने सामान निकालकर चार ट्रक में लोड कर मिलक बरेली भेजा है। भोपा थाना क्षेत्र के गांव बिहारगढ़ में वन विभाग की भूमि पर बने पीर खुशहाल के चिल्लागाह की भूमि को कब्जा मुक्त कराकर वन विभाग को सौंप दिया है, जिसके बाद से चिल्लागाह में वन कर्मियों ने डेरा डाल लिया है। पीर खुशहाल के आवासीय महल को भी तेजी से खाली कराया जा रहा है। सेवकों ने आठ कमरों को खाली कर उनकी चाबी वन विभाग को सौंप दी है। शनिवार को भी सेवकों ने चार ट्रक में घरेलू सामान लोड कर मिलक बरेली भेजा है। वही मीडिया कर्मियों को मजार के अंदर नहीं जाने दिया जा रहा था। प्रशासन के हस्तक्षेप के बाद मीडिया कर्मियों को मजार के अंदर ले जाया गया। रिपोर्ट दर्ज होने के बाद से पीर साहब के दामाद सूफी जव्वाद अहमद व पत्नी नाजिया आफरीदी फरार है।

Share it