Top

मुज़फ्फरनगर में 'माननीयों' के प्रयास हुए फेल, नहीं खुलेंगी कल राखी और मिठाई की दुकानें, अफवाहों पर न दें ध्यान !

मुज़फ्फरनगर में

मुजफ्फरनगर- जिले में माननीयों के प्रयास फेल हो गए है, कल कोई बाज़ार नहीं खुलेंगे, किसी अफवाह के शिकार न हो, लॉक डाउन का पूरी तरह पालन करें और घर में ही त्यौहार मनाये।

आज बकरीद और सोमवार को रक्षा बंधन के पर्व के चलते उम्मीद की जा रही थी कि शायद इस बार साप्ताहिक लॉक डाउन में कुछ रियायत दी जायेगी लेकिन प्रदेश सरकार से ऐसे कोई आदेश प्राप्त नहीं हुए है, मुज़फ्फरनगर के सांसद और केन्द्रीय मंत्री संजीव बालियान ने तो व्यापारियों की मांग पर बाकायदा पत्र लिखकर भी ये मांग की थी।

मुज़फ्फरनगर के विधायक और प्रदेश सरकार में मंत्री कपिल देव अग्रवाल ने भी इस बारे में लगातार प्रयास किये थे, आज सुबह से ही कुछ न्यूज़ ग्रुप समेत सोशल मीडिया पर ये चर्चा चल रही थी कि मंत्री जी के प्रयास से कल रविवार को मुज़फ्फरनगर में भी कम से कम राखी और मिठाई की दुकाने खोलने की मंजूरी दे दी जाएगी | राज्यमंत्री कपिल देव अग्रवाल के भरोसे पर तो आज कुछ प्रमुख मिठाई वालों ने अपनी तैयारी भी तेजी से शुरू कर दी थी तथा सोशल मीडिया पर भी पोस्ट कर दिया था कि कल उनकी दुकानें खुलेंगी , लेकिन जिला प्रशासन ने स्पष्ट कर दिया है कि कल कोई दुकान नहीं खुलेंगी, शासन के लॉक डाउन के आदेश का पूरी तरह पालन कराया जाएगा।

अपर जिलाधिकारी प्रशासन अमित सिंह ने बताया कि कल दुकान खोलने का कोई निर्णय नहीं किया गया है, जिला प्रशासन प्रदेश सरकार की गाइड लाइन के अनुरूप सोमवार सुबह 5 बजे तक लॉक डाउन का पालन कराएगा। कल रात दस बजे साप्ताहिक लॉक डाउन शुरू होने के बाद भी देर रात तक बकरा मार्केट आबाद रहने और वहां बिक्री चलने पर उन्होंने कहा कि ऐसी कोई जानकारी नहीं है हालाँकि कल रात से ये खबरें सभी ग्रुप में घूम रही है और एक प्रमुख अख़बार ने अपने न्यूज़ ग्रुप पर प्रकाशित भी की है।

आपको बता दें कि वाराणसी समेत नॉएडा और गाज़ियाबाद के जिलाधिकारी के बाद आज शामली की जिलाधिकारी जसजीत कौर ने भी कल बाज़ार खोलने के आदेश किये है पर मुज़फ्फरनगर में ऐसा कोई आदेश नहीं है, किसी अफवाह से भ्रमित न हों, सोमवार सुबह तक लॉक डाउन का पालन करें।

Share it