Top

दबंग डीलरों ने योगी सरकार की प्राथमिकताओं को लगाया पलीता

दबंग डीलरों ने योगी सरकार की प्राथमिकताओं को लगाया पलीता

मुजफ्फरनगर। कुछ राशन डीलर ऐसे थे, जिन्होंने योगी सरकार की प्राथमिकताओं को सीध पलीता लगाया। सरकार की मंशा थी कि लॉकडाउन के दौरान हर घर तक राशन पहुंच जाये ताकि कोई भूखा न रहे। मगर बघरा ब्लाक के गांव जागाहेडी के राशन डीलर ने योगी सरकार की इन प्राथमिकताओं को सीधे ठेंगा दिखाया। लोगों ने विरोध किया तो उन्हें धमकाया गया कि और कहा कि भविष्य में उन्हें कभी राशन ही नहीं मिलेगा। ऐसे में गरीब लोग शांत हो गये। शिकायत जिला मुख्यालय तक पहुंची, जहां से जांच का आश्वासन दिया गया, लेकिन गरीब लोगों के घर तक राशन के दाने तक नहीं पहुंच पाये।

राशन डीलर का नाम ओमबीर सिंह बताया गया है, जिसके पास पिछले कई साल से राशन की दुकान है, जिसकी शिकायत ग्रामीण कई बार पूर्ति विभाग से कर चुके है। मगर सिक्को की चमक ऐसी है कि विभाग की हिम्मत इसको छेडने की नहीं होती। इसी के साथ इस राशन डीलर के हौंसले इतने बढ़ जाते है कि यह गांव के प्रधान से लेकर किसी भी जिम्मेदार व्यक्ति की भी नहीं सुनता। श्रम विभाग में पंजीकृत कुछ मजदूर अपने पंजीकरण पत्र लेकर नि:शुल्क राशन की आस में यहां पहुंचे थे, मगर डीलर ने उन्हें यहां से भगा दिया।

डीलर का कहना था कि उनके पास ऐसी कोई सूची नहीं है, जो कि किसी मजदूर को फ्री में वह राशन दे। वह तो सरकार को पैसा देकर राशन उठाकर लाया है। ऐसे में वह कैसे फ्री में राशन दे सकता हैं। इसी के साथ ग्रामीण काफी परेशान दिखाई दिये। शिकायत जिला मुख्यालय तक पहुंचाई गई। अम्बेडकर युवा मंच के प्रदेश अध्यक्ष राधेश पप्पू ने कहा कि इस प्रकार के राशन डीलरो के खिलाफ कार्यवाही होनी चाहिए ताकि गरीबो को लॉकडाउन के दौरान में राशन मुहैया हो सके। ऐसे लोग सरकार की प्राथमिकताओं को पलीता लगा रहे हैं।

Share it