Top

लॉकडाउन की घोषणा होते ही पुलिस की सख्ती शुरू

लॉकडाउन की घोषणा होते ही पुलिस की सख्ती शुरू

खतौली। कोरोना वायरस के प्रकोप के खात्मे को शुरू हुए 21 दिन के देशव्यापी लाक डाउन का पहला दिन कस्बेवासियों ने अपने घरों में कैद होकर गुजारा। प्रधानमंत्राी नरेन्द्र मोदी द्वारा मंगलवार रात 8 बजे टीवी चैनलों पर देश मे 21 दिन का लाक डाउन किये जाने की घोषणा करते ही किरयाने की दुकानों पर खरीदारों का हुजूम उमड़ पड़ा। घरेलू सामान खरीदने के लिये लोगों के बीच मारामारी का आलम रहा। मेडिकल स्टोरों पर दवाइयाँ खरीदने वालों की लाइन लगी रही। बुधवार दिन निकलते ही पुलिस की सख्ती के दौर शुरू हो गया। कोतवाली पुलिस ने दुपहिया वाहनों के चालान काटे। अनावश्यक रूप से सड़क पर घूमने वालो की पुलिस ने जमकर खबर ली। कइयों को पुलिस ने अपनी लाठी का प्रसाद देकर दूर तक दौड़ाया। मुख्य सड़कों के अलावा गली मोहल्लों में पुलिस की गश्त तेज रही। गलियों के नुक्कड़ों पर भीड़ लगाकर चिकल्लस करने वालों को पुलिस ने दौड़ाया। एसडीएम इन्द्रकान्त द्विवेदी, सीओ आशीष प्रताप सिंह व कोतवाल सन्तोष कुमार त्यागी ने कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप को रोकने के लिये नागरिकों से घरों में रहने की अपील की। सड़कों पर अनावश्यक रूप से घूमने वालों पर कोतवाली के एसएसआई मुकेश कुमार सौलंकी की टीम का खौपफ रहा। एसएसआई मुकेश कुमार सौलंकी ने लाक डाउन के दौरान घर से निकलने का उचित कारण ना बताने वालों की सड़क पर ही खबर ली। नगर पालिका परिषद चौयरपर्सन बिलकीस बेगम के आदेश पर कस्बे में सपफाई व जलापूर्ति व्यवस्था सुचारू रही। ईओ जयप्रकाश यादव, एसआई चौधरी नेपाल सिंह ने अपनी निगरानी में कार्य कराया। सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के चिकित्साधीक्षक डा. मुकेश उपाध्याय, डा. अशवनी कुमार, चीपफ पफार्मेसिस्ट अंजुम परवेज ने कस्बे में घूमकर लाउडस्पीकर के माध्यम से नागरिकों को कोरोना वायरस के प्रकोप से बचने के उपाय बताये। इसके अलावा स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा कोतवाली पुलिस को साथ लेकर हाल पिफलहाल एक पड़ोसी मुल्क की यात्रा से वापस लौटे तीन लोगों की इनके घरों पर जाकर जांच पड़ताल करने से मोहल्ले में हड़कम्प मच गया। स्वास्थ्य विभाग की टीम के देर तक संदिग्धों की जाँच पड़ताल कर बैरंग लौटने के बाद ही मोहल्ले वालों ने चौन की सांस ली।

Share it