Top

गगनहर में समाई कार, दो युवकों की मौत...एक शव बरामद, दूसरे शव की तलाश जारी

पुरकाजी। पुरकाजी के निकट धमात गंगनहर में एक ब्रेजा कार नहर में समा गई, जिससे कार में सवार दो युवकों की पानी में डूबने से दर्दनाक मौत हो गई, जबकि दो युवक किसी प्रकार पानी से बाहर निकल आए। कार सवार हरियाणा पलवल से हरिद्वार घूमने के जा रहे थे। पुलिस ने सुबह के समय मौके पर जाकर क्रेन की मदद से कार को नहर से निकाला और युवकों के परिजनों को मामले की सूचना दी। बुधवार के दिन हरियाणा के पलवल के गांव कुलवडी निवासी मोहित, कुशलपुर निवासी अनुज, भारत, भदौला निवासी अनिल ब्रेजा कार संख्या एच आर 30 यू 9753 में सवार होकर पलवल से चले थे। बताया गया कि जब कार सवार गंगनहर की पटरी से होते हुए पुरकाजी थाना क्षेत्र के धमात गंगनहर उत्तर प्रदेश उत्तराखंड बार्डर के समीप पहुंचे, तो कार की स्पीड अधिक होने के कारण कार पर संतुलन खराब होने के कारण कार नहर में जा गिरी। उस समय चारों युवक भी कार समेत पानी में समा गए, लेकिन पिछली सीट पर बैठे मोहित व अनुज किसी प्रकार खिडकी खुलने के कारण पानी से बाहर निकल आए। घटना रात्रि दो बजे की होने कारण गंग नहर पटरी भी बिल्कुल सुनसान थी, लेकिन एक दो कारों को इन दोनों युवकों ने अपनी मदद को हाथ दिया, लेकिन कोई कार सवार वहां पर नहीं रूका। उसके बाद दोनों युवक करीब ढाई किलोमीटर दूर पैदल चलकर उत्तराखंड के गांव बुडपुर में एक मकान में पहुंचे और मदद मांगी। इन दोनों युवको के कपडे आदि भी गीले होने के कारण उन्हें कपडे आदि दिए। उसके बाद दोनों युवक मौका स्थल पर आ गए और करीब सात बजे पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने मौके पर जाकर दोनों युवकों से मामले की जानकारी लेकर तुरंत मदद के लिए पीएसी की नांव व शुक्रताल से गोताखोर श्रवण कुमार, राकेश कुमार, दीपक कुमार व क्रेन को बुलाया गया और इसके बाद रेस्क्यू आपरेशन शुरू किया गया। मौके पर एसडीएम सदर अशोक कुमार, नायब तहसीलदार योगेश कुमार भी पहुंच गए। घंटों चले रेस्क्यू आपरेशन के बाद गोताखोर व पीएसी और क्रेन की मदद से ब्रेजा कार को बाहर निकाला गया, लेकिन जब कार बाहर निकाली तो उसमेंं सिर्फ एक ही शव बाहर निकला, जिसकी पहचान अनिल के रूप में हुई। शव कार में बुरी तरह से फंसा हुआ था। शव को गैस कटर द्वारा कार को काटकर मुश्किल बाहर निकाला गया। एसडीएम सदर ने बताया कि एक शव अभी भी लापता है, जिसकी भोपा, जानसठ गंगनहर पर सूचना दे दी और गोताखोरो की मदद से तलाश जारी है और दुर्घटनाग्रस्त युवको के परिजनों को भी सूचना दे दी है। पुलिस ने मतृक अनिल के शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम को भेज दिया। पुलिस ने मामले में इत्तेफाकिया मुकदमा दर्ज किया है।

रात्रि में नहीं रूका कोई कार सवार मदद के लिए.........

घटना रात्रि दो बजे की है, जब ब्रेजा कार सवार चारों युवक कार समेत नहर में समा गए। ईश्वर की कृपा रही कि दो कार सवार मोहित व अनुज जो पिछली सीट पर बैठा हुए थे। दोनों युवक कार की खिडकी खुलने के कारण पानी से बाहर निकल आए और दोनों युवकों को हल्की-फुल्की चोट लगी। मोहित व अनुज ने सुबह के समय बताया कि जब ये दुघर्टना हुई और जब हमने बाहर निकालकर गंग नहर पटरी से गुजरते हुए कार सवारों को मदद के लिए रूकने की कोशिश की तो उस समय कोई भी कार नहीं रूकी, जिस कारण दोनों युवक घंटों परेशान रहे। उन्होंने बताया कि ढाई किलोमीटर की दूरी पर उत्तराखंड बार्डर पर एक गांव दिखाई दिया और वे गांव में चले गए और अपनी आपबीती सुनाई। उस परिवार ने दोनों की मदद करते हुए उन्हें पहनने लिए कपडे आदि दिए, उसके बाद वे मौकास्थल पर पहुंच गए। सुबह साढे छ: बजे पुलिस को सूचना दी। पुलिस व अन्य लोग मदद को पहुंचे। एसडीएम सदर अशोक कुमार ने बताया कि लापता भारत के शव की तलाश शुरू कर दी है, बाहर से गोताखोर मंगाए गए है, पीएसी को रेस्क्यू आपरेशन में लगाया गया है, लापता शव को जल्द ही ढूंढ लिया जाएगा।

पुरकाजी पुलिस का योगदान भी सराहनीय

पुरकाजी पुलिस को जब मामले में जानकारी प्राप्त हुई तो स्वयं प्रभारी निरीक्षक पंकज त्यागी, एसएसआई मदन बिष्ट, कांस्टेबिल राहुल शर्मा, रोहित, सुनील चावडा तुरंत मौका स्थल पर पहुंचे और गोताखोर और पीएसी के द्वारा रेक्सयू आपरेशन जारी कराया। पुरकाजी कोतवाल पंकज त्यागी भी मौके पर स्वयं डटे रहे।

Share it