Top

बसपा के महानगर अध्यक्ष ने दी कडी प्रतिक्रिया...बसपा एक मिशन, किसी के आने और जाने से कोई फर्क नहीं पड़ेगा: माजिद सिद्दीकी

बसपा के महानगर अध्यक्ष ने दी कडी प्रतिक्रिया...बसपा एक मिशन, किसी के आने और जाने से कोई फर्क नहीं पड़ेगा: माजिद सिद्दीकी

मुजफ्फरनगर। बसपा के टिकट पर दो बार विधायक चुने गये अनिल कुमार द्वारा पार्टी छोडकर समाजवादी पार्टी में शामिल होने की घोषणा पर बसपा नेताओं ने कडी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। बहुजन समाज पार्टी के महानगराध्यक्ष माजिद सिद्दीकी ने कहा है कि किसी के आने और जाने से बहुजन समाज पार्टी को कोई फर्क नहीं पड़ता है।

बहुजन समाज पार्टी एक मिशन है और अनिल कुमार पूर्व विधायक को बसपा ने ही माननीय अनिल कुमार बनाया है। बसपा में वही रहेगा, जो निस्वार्थ राजनीति करेगा और जो दबे-कुचले व दलित लोगों की आवाज को उठायेगा। यही कारण है कि बसपा एक मिशन है और किसी के आने व जाने से कोई फर्क नहीं पड़ेगा।

अपनी राजनीतिक गुरू उमा किरण के नक्शेकदम पर चले अनिल कुमार

मुजफ्फरनगर। बहुजन समाज पार्टी में एक सामान्य कार्यकर्ता के रूप में अपना राजनीतिक कैरियर शुरू करने वाले अनिल कुमार दो बार विधायक बने, लेकिन आज वह अपनी राजनीतिक गुरू उमा किरण के नक्शेकदम पर चलकर बसपा छोड़कर सपा में शामिल हो रहे है। उमा किरण ने भी अपना राजनीतिक कैरियर बसपा से ही शुरू किया था और उन्हें विधायक बनने का सौभाग्य भी मिला। इसके बाद वह पार्टी में विद्रोह कर सपा में शामिल हो गई थी और राज्यमंत्री भी बनी, तब अनिल कुमार उनके साथ ही जुडे हुए थे, लेकिन वर्ष 2007 के विधानसभा चुनाव में बसपा हाईकमान ने उन्हें चरथावल से टिकट दे दिया और वह विजयी भी रहे, लेकिन उमा किरण को फिर राजनीतिक क्षेत्र में कोई सफलता नहीं मिली और वह घर बैठ गई, किन्तु अनिल कुमार का कैरियर उफान पर रहा और उन्होंने 2012 के विधानसभा चुनाव में पुरकाजी क्षेत्र से बसपा के टिकट पर फिर से चुनाव लडा और दूसरी बार विधायक बनने का सौभाग्य प्राप्त किया। बसपा ने उन पर बेहद विश्वास किया और 2017 के चुनाव में भी पुरकाजी से टिकट दिया, लेकिन वह भाजपा के प्रमोद उंटवाल से लगभग 50 हजार वोटों से हार गये थे।

Share it
Top