Top

बस यात्रियों को उठानी पड़ रही है भारी परेशानी...अनुबंधित बसों की शाहपुर में नहीं लगी है समय सारणी, बस छुटने से होती है दिक्कत

बस यात्रियों को उठानी पड़ रही है भारी परेशानी...अनुबंधित बसों की शाहपुर में नहीं लगी है समय सारणी, बस छुटने से होती है दिक्कत

शाहपुर। शाहपुर उत्तर प्रदेश परिवहन की बसों की समय सारणी नियमित नहीं होने के कारण सवारियों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है शाहपुर बड़ौत मार्ग पर परिवहन विभाग की बसें चलती हैं जिनमें कुछ बसें मुजफ्फरनगर डिपो एवं कुछ बसें बड़ौत डिपो की चलती हैं इसके अलावा आधे से ज्यादा बसें अनुबंधित बसों के रूप में चल रही है इस मार्ग पर चलने वाली बसें अधिकांश बसें बड़ौत क्षेत्र के लोगों की है तथा उनके चालक परिचालक भी बड़ौत क्षेत्र के ही हैं रात में बसे बड़ौत में ही विश्राम करती हैं और पढ़ाते मुजफ्फरनगर के लिए चलती है और पुणे वापसी बड़ोद के लिए करती हैं तो दोपहर 2.00 बजे के बाद शाहपुर से मुजफ्फरनगर जाने के लिए बसों की समस्या बन जाती है तथा सवारियों का तांता लगा रहता है। खासकर इस दौरान स्कूली बच्चे एवं स्कूल के स्टाफ जिनमें महिलाएं ज्यादा परेशान रहती हैं काफी काफी देर के बाद जब बस आती है तो एक बस मैं सवारी नहीं आ पाती जिसके चलते कुछ ही सवारियों का बस में जाना हो पाता है ऐसे में घंटो घंटो बस स्टैंड पर सवालियां खड़ी रहती हैं और परेशान हो जाती हैं यही हालत शाम की भी है यह सभी बसें बड़ोद जाकर रुक जाती हैं। शाम को जिला मुख्यालय जाने के लिए सवारिया बुढाना की ओर मुंह करके बसों की ओर ताकती रहती हैं लेकिन दूर-दूर तक बस दिखाई नहीं देती सवारियों का कहना है कि उन लोगों ने एमएसटी भी बनवा रखी है तथा कुछ ने कार्ड बनवा रखे हैं लेकिन कोई फायदा नहीं हो पा रहा है बसों के अभाव में उनको निजी वाहनों से या प्राइवेट डग्गामार वाहनों से ही यात्रा करनी पड़ती है। दैनिक यात्री राजीव मित्तल संजीव मित्तल अमन खान नरेश कुमार शर्मा ज्योति शर्मा दिनेश कुमार आरती चौधरी बीना शर्मा आदि ने जिलाधिकारी एवं ए आर एम परिवहन से बसों की समय सीमा निर्धारित करने की मांग की है।

Share it